कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

Mrigya Rai

A student with a passion for languages and writing.

Voice of Mrigya Rai

मर्यादा का पालन या मेरे खिलाफ एक साजिश…?

'मर्यादा का पालन' नाम की बेड़ियाँ बना औरत को बांध देना, या सिर्फ़ तब याद आना जब औरत की बात हो, ग़लत है। आपका क्या मानना है?

टिप्पणी देखें ( 0 )
कोविड रिकवरी डाइट कैसी होनी चाहिए, बताती हैं रुजुता दिवेकर

अगर आप कोरोना पॉजिटिव हैं, तो इलाज को करने के साथ अच्छी डाइट लेना ज़रूरी है। यहाँ है रुजुता दिवेकर की सुझाई कोविड रिकवरी डाइट।

टिप्पणी देखें ( 0 )
“करोना से बचने के लिए 3 बातों का रखें ध्यान”, कहती हैं डॉक्टर इस वायरल वीडियो में

“हम असहाय हैं, ऐसी स्थिति पहले कभी नहीं देखी, लोग घबरा रहे हैं!” अपना दर्द बयान करती हुई डॉक्टर बताती हैं करोना से बचने के लिए क्या करें।

टिप्पणी देखें ( 0 )
इन 6 महिला केंद्रित कोरियन ड्रामा को अब आप भी देख ही डालिये!

आजकल सब कोरियाई ड्रामा यानि के-ड्रामा की देखते हैं, आप भी कर सकते हैं अपनी शुरुआत इन 6 महिला केंद्रित कोरियन टीवी ड्रामाज़ के साथ। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्यों रात को घर से अकेले निकलने में डरूँ मैं?

आज के समय में जहां औरतें अपनी मंज़िल की ओर निडर होके आगे बढ़ रही हैं, तो फिर क्यूँ वे रात को घर से निकलने और रास्ते पर अकेले चलने से डरें?

टिप्पणी देखें ( 0 )
मेरे पति घर का पैक किया टिफ़िन ऑफिस में बेच कर फ़ास्ट फ़ूड खाते हैं…

मेरे पति अपने सहकर्मियों को मेरे बनाये सैंडविच बेचते हैं, और उन पैसों से वह रेस्ट्रॉंट से अपना लंच खरीदने जाते है। यह सुनके मैं तो दंग रह गई।

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्या इतना आसान है अपनी पत्नी को मार डालना और कहना कि वह इसके लायक़ थी?

हरीश ने अपनी पत्नी नीलू की सरे बाजार हत्या करके कहा, "वह इसके लायक़ थी", क्योंकि अपने पति के मना करने के बाद भी वह नौकरी कर रही थी...

टिप्पणी देखें ( 0 )
बहु, अपने सपने भूलो और इस घर को संभालो!

एक तरफ़ ऐसे शोज़ हैं जो औरतों का सशक्तिकरण दिखा रहे हैं, और दूसरी ओर ससुराल सिमर का जैसे शोज़ जो हमें रूढ़ियों की चौखट पे खड़ा कर देते हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्रिस्टी डीआस: राष्ट्रीय स्तर की वॉलीबॉल खिलाड़ी से लेकर प्लंबर तक का मेरा सफर

राष्ट्रीय स्तर की वॉलीबॉल खिलाड़ी होने से लेकर प्लंबर बनने तक, क्रिस्टी डीआस ने महिलाओं के खिलाफ बने उन सभी पूर्वाग्रहों को तोड़ा है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
“अरे यह फटी हुई जींस क्यूँ पहन रखी है?”

रिप्पड यानि फटी हुई जींस कहने को तो एक फ़ैशन ट्रेंड है पर जब भी लड़कियाँ इससे पहनती हैं तो कुछ ना कुछ ताने सुनने को ज़रूर मिलते हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
शादी से पहले ही अपने होने वाले पति से पूछें ये 9 ज़रूरी सवाल

शादी से पहले जोड़े को एक-दूसरे के साथ मिलने का समय सीमित होता है, और उन्हें जिस जानकारी के माध्यम से झारना चाहिए वहलगभग अनंत है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
shaadi
जब तुम्हारी शादी होगी तब समझ में आएगा…

क्या आपने अपनी इस बेटी को शादी करने के लिए पैदा किया था? क्यों मुझे हमेशा शादी के ताने सुनने पड़ते हैं? आज आपको ये जवाब देना ही होगा।

टिप्पणी देखें ( 0 )
सेफ सेक्स और उससे जुड़े इन 6 सवालों के जवाब जानने हैं बहुत ज़रूरी

बड़े होने पर हम अपने बच्चों को गाड़ी चलाना सिखाते हैं, सड़क के ख़तरों से अवगत कराते हैं, सावधानी सिखाते हैं लेकिन जब बात हो सेफ सेक्स की तो?

टिप्पणी देखें ( 0 )
मेरी पत्नी मेरी माँ जैसी नहीं है…अब मैं क्या करूँ?

मैंने तो अपनी पत्नी से दहेज़ भी नहीं लिया लेकिन वो तो ना सिन्दूर लगाना चाहती है, न मंदिर जाना चाहती है, बताइये अब मैं क्या करूँ? कहाँ जाऊँ?

टिप्पणी देखें ( 0 )
शादी के बाद तुम अपने घर वालों को भूल जाओ तो अच्छा रहेगा…

क्यूँ हम अपनी बेटियों को कहते हैं कि शादी के बाद तुम ससुराल को ही अपना घर मानना? क्यूँ हम उन्हें यूँ पराया कर देते हैं? 

टिप्पणी देखें ( 0 )
आपने हमें बताया कि दुखी होने के बावजूद औरतें शादी के रिश्ते को निभाती हैं क्यूँकि…

बच्चों की वजह से मैं अपने सपनों ओर इच्छाओं की कुर्बानी दे सकती हूँ लेकिन बच्चों को किसी चीज की कमी बर्दाश्त नहीं कर सकती।

टिप्पणी देखें ( 0 )
रमानी-अकबर केस के निर्णय की ये 6 बातें महिलाओं के लिए बदलेंगे बहुत कुछ

रमानी-अकबर केस में, रमानी की जीत में कोर्ट के निर्णय के यह कुछ मुख्य अवलोकन बदलते समाज की आवाज़ बनकर सुनायी दिए हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
रमानी-अकबर केस: प्रतिष्ठा का अधिकार गरिमा के अधिकार की कीमत पर नहीं

रमानी-अकबर केस में आज कोर्ट का यह फ़ैसला औरतों के लिए एक उम्मीद है कि उनकी आवाज़ व्यर्थ नहीं जा रही, बदलता समाज उनकी आवाज़ सुन सकता है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
मिस इंडिया 2020 रनर्स-अप मान्या सिंह की कहानी ने मुझे बहुत प्रेरित किया

मिस इंडिया 2020 रनर्स-अप मान्या सिंह के पिता एक रिक्शा ड्राइवर हैं लेकिन उनके हालात उन्हें अपने सपनों की ओर बढ़ने से नहीं रोक सके। 

टिप्पणी देखें ( 0 )

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020