सामाजिक मुद्दे
डमी क्या चीज़ होती है जी

"भाभी को सरपंच पद पर चुनाव में खड़ा कर दीजिये भैया। इससे चित और पट दोनों आप ही के रहेंगे। है कि नहीं?"

टिप्पणी देखें ( 0 )
सीख यही है मेरे जीवन की, सीखने के लिए कभी खुद को रोकना नहीं

जब मानव समाज के नियमों का ताना-बाना बुन रहा था, तो बुद्धिमत्ता वाले काम पुरुष के हिस्से में रखे, और शरीरिक क्षमता वाले काम स्त्रियों के हवाले कर दिये। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
फेमिनिस्ट आइकॉन प्रिया मलिक जनता से कुछ अहम् सवाल पूछ रही हैं और हमें लगता है ये सबको सुनने चाहियें!

समाचार को प्रस्तुत करने का ये जरिया न ही सिर्फ लोगों को जागरुक करता है बल्कि खबरों की तरफ लोगों की रुचि भी बढ़ाता है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
आपको बीमार होने का हक नहीं है

अब सच्चाई यह है कि आप शादी के बाद बीमार नहीं हो सकतीं। आपको बीमार होने का हक ही नहीं है, क्यूंकि आप तो बहू हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
सिर्फ कन्या पूजन ही न करें

सिर्फ कन्या पूजन ही न करें वरन अपने लड़कों को सही संस्कार दें जिससे वो महिलाओं पर शासन नहीं अपितु उनकी भावनाओं का आदर करें।

टिप्पणी देखें ( 0 )
यौन उत्पीड़न और चरित्र हनन सिर्फ़ लड़कियों का क्यों

सेक्सुअल रिलेशन बनाने से बदनामी लड़की की ही क्यों होती है, लड़के की क्यों नहीं? ज़ाहिर तौर पर या तो बदनामी दोनों की होनी चाहिए या फिर किसी की नहीं। 

टिप्पणी देखें ( 0 )

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?