कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

कला और संस्कृति
हिन्दी भाषा की वर्तमान स्थिति और भविष्य के लिए सरलता है ज़रूरी

हिन्दी भाषा की वर्तमान स्थिति और भविष्य के लिए भाषा में परिवर्तन कीजिये अन्यथा इतने विशाल साहित्य भंडार को पढ़ने वाला कोई रहेगा ही नहीं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
प्रथा के नाम पर गुड़िया को पीटना तो बस एक बहाना है…

प्रचलित कहानियों के अनुसार गुड़िया को पीटना महिला और बहन पीटने का प्रतीक है, जिसको पीटने में शौर्य है, इज्जत पर लगे हुए बट्टे की धुलाई है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
इस बार इको-फ्रेंड्ली होगा रक्षाबंधन का त्यौहार इन 7 ब्रांड्स के साथ

रक्षाबंधन का त्यौहार मानाने के लिए हम आपके लिए कुछ ऐसे ब्रांड्स लाए हैं जिनकी राखियां इको-फ्रेंड्ली और हाथ-कारीगरों ने बनाई हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
ये 5 स्टैंड अप महिला कॉमेडियन मुझे बहुत पसंद हैं, और आपको?

इन 5 प्रभावशाली महिलाओं ने अपनी निडरता से इन निर्धारित स्टीरियोटाइप को चुनौती दी और स्टैंड अप महिला कॉमेडियन के लिए नए दरवाजे खोल दिए। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्या है रज-पर्व जिसमें धरती माँ को 3 दिन तक पीरियड्स आते हैं?

क्या है रज-पर्व? ओडिशा इकलौता राज्य है जहां ये उत्सव मनाया जाता है, हम क्यूँ नहीं पीरियड्स से जुड़ी रूढ़ियों को भुला कर इसे मना सकते?

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्या हिंदी टीवी सीरियल की ‘आदर्श बहु’ हमारे परिवारों की सच्चाई है?

हिंदी टीवी सीरियल अपनी कहानी औरतों को आदर्श रूप में दिखाने से शुरू करते हैं लेकिन जैसे-जैसे कहानी आगे बढ़ती है ये सीरियल कुछ और करते हैं। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
topic
art-culture
और पढ़ें !

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020