फेमिनिस्ट
फेमिनिस्ट आइकॉन प्रिया मलिक जनता से कुछ अहम् सवाल पूछ रही हैं और हमें लगता है ये सबको सुनने चाहियें!

समाचार को प्रस्तुत करने का ये जरिया न ही सिर्फ लोगों को जागरुक करता है बल्कि खबरों की तरफ लोगों की रुचि भी बढ़ाता है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
क‌ई आवाजें पर एक ही टीस,मुझे मेरा आसमान चाहिये।

ऐसा होना चाहिए, वैसा होना चाहिए। इन सब की उधेड़-बुन में जो होना चाहिए था वो हुआ नहीं और जो करना चाहती थी, वो किया नहीं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
सिर्फ कन्या पूजन ही न करें

सिर्फ कन्या पूजन ही न करें वरन अपने लड़कों को सही संस्कार दें जिससे वो महिलाओं पर शासन नहीं अपितु उनकी भावनाओं का आदर करें।

टिप्पणी देखें ( 0 )
राष्ट्रमाता मूलमती देवी-प्रसिद्ध क्रांतिकारी और कवि रामप्रसाद बिस्मिल की महीयशी माँ

आत्मकथा में रामप्रसाद लिखते हैं, "यदि मुझे ऐसी माता नहीं मिलती तो मैं भी अति साधारण मनुष्यों के भांति संसार चक्र में फंस कर जीवन निर्वाह करता।"

टिप्पणी देखें ( 0 )
खुशखबरी, शायद आपको सुनने को ना मिले

शादी, कम से कम मैंने, नहीं की बच्चे के लिए। एक महिला को अब तो यह अधिकार मिलना ही चाहिए कि वो बच्चा पैदा करे कि नहीं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
खोने नहीं देंगे खुद को, वादा है मेरा और आपका

जैसे मेरे दिल को अंदर तक कुछ भेद दिया था। बहुत चुभन हुई, और सबके जाने के बाद आज आईने से बातें करने बैठ गई और खुद को निहारने लगी।

टिप्पणी देखें ( 0 )

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?