कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

किताबें
जाने मने और आधुनिक भारतीय लेखिखाओं के पुस्तक समीक्षा और लेखिखाओं के इंटरव्यू
जसविंदर संघेरा की किताब ‘डॉटर्स ऑफ़ शेम’ ने मेरी आँखें खोल दीं…

जसविंदर संघेरा कहती हैं कि बाहर बसे ये लोग ज़्यादातर भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश के थे, और ये नहीं चाहते थे कि उनके बच्चे अपनी मर्ज़ी से शादी करें। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
अमृता प्रीतम की कविताएं एक नारी की अंतरंग भावनाओं का प्रतिबिंब हैं!

अमृता प्रीतम की कविताएं कहती हैं कि उन्होंने कभी भी समाज के बंधनों को नहीं माना, समाज के दकियानूसी उसूलों पर सवाल उठाने में अमृता कभी पीछे नहीं रहीं।

टिप्पणी देखें ( 1 )
लेखिका शिवानी की ‘चौदह फेरे’ और ये 6 उपन्यास और कहानियां मेरे मन के बेहद करीब हैं!

भारत हिंदी साहित्य के इतिहास का एक सुनहरा युग थीं मशहूर लेखिका शिवानी, इस आम भारतीय स्त्री की कलम से लिखी गई कहानी हर एक को अपनी सी लगती है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
लेखिका कृष्णा सोबती जी के साथ मेरी एक अनोखी मुलाकात

हाँ! वह चेहरा कोई और नहीं लेखिका कृष्णा सोबती जी थीं, जिनका उपन्यास मैं कुछ देर पहले पढ़ रहा था, और अब उनके सामने बैठा हुआ था।

टिप्पणी देखें ( 5 )
क्या आप रवींद्रनाथ टैगोर की इन 5 नायिकाओं को जानते हैं?

रवींद्रनाथ टैगोर के उपन्यास और कहानियां, दोनों ने लोगों को महिलाओं की मुक्ति और उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करने के लिए सूक्ष्मता से प्रयास किया।

टिप्पणी देखें ( 0 )
इस साल की टॉप 10 हिंदी पोस्ट्स जो आपने सबसे ज़्यादा पसंद कीं!

ये दशक विमेंस वेब के लिए कई मायनों में एक यादगार साल साबित हुआ, सबसे ज़्यादा इसलिए कि आप सब के प्यार ने हमें विमेंस वेब - हिंदी शुरू करने को प्रेरित किया।

टिप्पणी देखें ( 0 )

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020