कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

ये 5 स्टैंड अप महिला कॉमेडियन मुझे बहुत पसंद हैं, और आपको?

इन 5 प्रभावशाली महिलाओं ने अपनी निडरता से इन निर्धारित स्टीरियोटाइप को चुनौती दी और स्टैंड अप महिला कॉमेडियन के लिए नए दरवाजे खोल दिए। 

Tags:

इन 5 प्रभावशाली महिलाओं ने अपनी निडरता से इन निर्धारित स्टीरियोटाइप को चुनौती दी और स्टैंड अप महिला कॉमेडियन के लिए नए दरवाजे खोल दिए। 

अब गए वो दिन जब भारतीय कॉमिक की दुनिया में पुरुषों की प्रधानता थी और औरतों पर मज़ाक़ किए जाते थे। इस नए दौर में अति-प्रभावशाली महिला कोमेदीयंस ने कॉमेडी टीवी शो और ऑनलाइन स्पेस में अपनी जगह बनायी है। 

क्या है स्टैंड अप कॉमेडी? स्टैंड-अप कॉमेडी एक हास्य शैली है जिसमें एक कलाकार लाइव दर्शकों के सामने प्रदर्शन करता है। इसमें कॉमेडियन हास्य कहानियां, चुटकुले, और वन-लाइनर्स बताते हैं, जो आमतौर पर एक मोनोलोग, रूटीन या एक्ट कहलाता है।

लाइव प्रदर्शन के बाहर, स्टैंड-अप अक्सर टेलीविजन और इंटरनेट के माध्यम से लोगों को देखने के  लिए उपलब्ध होते हैं। हालांकि सदियों पहले स्टैंड अप कॉमेडी की शुरुआत पश्चिमी देशों में हुई थी, लेकिन भारत में पिछले कुछ ही सालों में यह कला के रूप में प्रसिद्ध हुआ है।

अभी भी भारत में स्टैंड अप कॉमेडी अपने जड़ जमाने का प्रयास कर रहा है, और ख़ासकर महिला कमीडीयन वाले स्टैंड अप एक्टस अभी भी बहुत कम संख्या में है।

पर जितनी भी महिला कॉमेडियन है वो निडर होके अपनी बात कहती हैं और साबित करती हैं कि औरतें कॉमेडियन नहीं बन सकतीं, ये सिर्फ़ एक झूठी धारणा है।

तो आइए जानते है भारत की कुछ सर्वश्रेष्ठ महिला कॉमेडियन के बारे में जीन्होंने स्टैंड अप कॉमेडी की दुनिया में महिलाओं की प्रधानता बढ़ाई है और स्टैंड अप की एक नयी लहर शुरू की है:

1. अदिति मित्तल

www.imdb.com

Never miss real stories from India's women.

Register Now

अदिति मित्तल, भारत की पहली मानी जाने वाली महिला स्टैंड-अप कॉमेडियन, और बेहद लोकप्रिय चेहरा हैं।

उन्हें 2013 में लंदन में 100 प्रेस्टिजस विमन कॉन्फ़्रेन्स में बीबीसी द्वारा आमंत्रित किया गया था। उन्होने अमेरिकी डॉक्यूमेंट्री स्टैंड-अप प्लैनेट में भी भूमिका निभाई है।

वह भारत की विभिन्न संस्कृति के मुद्दों और महिलाओं की समस्याओं पर अपने विचार मजाकिया टिप्पणी के द्वारा प्रस्तुत करने के लिए जानी जाती हैं। वह अपने अपने मंच का उपयोग उन वास्तविकताओं के बारे में बात करने के लिए करती हैं जिन पर आमतौर पर चुप्पी साध ली जाती है। 

2. राधिका वाज़
www.goodreads.com

राधिका वाज कॉमेडी शेली के दायरे में सबसे जानी मानी और प्रतिष्ठित चेहरों में से एक हैं। वह फ़ेमिनिज़म के बारे में बातें, जो शायद हम सबको जानने की ज़रूरत है, उसे अपने स्टैंड अप में प्रस्तुत करती है ।

उनके स्टैंड अप के प्राथमिक विषयों में से एक है लिंग असमानता। राधिका का मानना ​​है कि हालांकि पुरुष और महिलाएं अलग-अलग हैं, लेकिन वे मौलिक रूप से समान हैं।

उनके द्वारा लिखित ‘अनलेडीलाइक’, जिसमें वह एक भारतीय महिला के रूप में उनका जीवन हास्यजनक और मनोरंजक तरीके से बताती है, लोगों द्वारा काफ़ी पसंद की गयी थी। 

3. नीति पाल्टा

कॉमेडी की दुनिया में कदम रखने के लिए ऐड्वर्टायज़िंग की अपनी नौकरी छोड़के अपने पैशन को फ़ॉलो करने वाली नीती पलटा हास्यजनक, मनोरंजीक कॉमेडी को प्रतिध्वनित करती है।

नीति औरतों की दृष्टि से सामान्य विषयों और जीवन के सामान्य टिप्पणियों को अपने ऐक्ट में प्रस्तुत करती हैं।

अपने बारे में मजाक करते हुए नीति कहती हैं कि पुरुष उसे पसंद नहीं करते हैं क्योंकि उसकी एक अलग सी महक है जो उन्होंने भाती नहीं: आत्मविश्वास।

अपने दर्शकों को अपने जोक्स से मनोरंजित करते हुए, वह उन विचारों को भी प्रस्तुत करती हैं जो औपचारिक रूप से मान्य टेबूस को बदल सकते हैं।

4. सुप्रिया जोशी (सुपरवूमन)

www.netflix.com

केवल मनोरंजन के लिए वौइस् बनाने के रूप में शुरू किया गया एक शौक़, सुप्रिया जोशी उर्फ ​​सुपरवूमन को देश में सबसे अधिक मांग वाली महिला कॉमिक्स में से एक बना दिया।

अपने अनफिल्टर्ड और बिंदास एक्ट्स के माध्यम से वह अपनी आवाज़ और मंच बॉडी शेमिंग, मेल परिवेलेज और जेंडर इनिक्वालिटी जैसे मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त करने के लिए इस्तमाल करती हैं।

AIB के साथ काम करते हुए उन्होंने ‘इफ पीपल वर एप्स’, ‘ए वुमनस बेस्टीज’ और ‘द बॉलीवुड दिवा सॉन्ग’ जैसे स्किट्स बनाए।

5. प्रशस्ति सिंह

www.imdb.com

कॉमिकस्टान के पहले सीज़न की पसंदीदा कंटेस्टेंट में से एक, प्रशस्ति सिंह, अमेठी के छोटे से शहर में पली बड़ी हैं, लेकिन उनके विचारों ने स्टैंड अप कॉमेडी में बहुत बड़ा बदलाव लाया है।

हालांकि कॉमेडी की दुनिया में वह अभी नयी हैं पर वह खुद को अनफिल्टर्ड, रॉ और रिलेटेबल तरीके में प्रस्तुत करके खुद की अलग पहचान बनाती हैं।

वह अपने ऐक्टस में रोजमर्रा की जिंदगी पर साधारण टिप्पणियों से लेकर कॉरपोरेट जगत में महिलाओं के साथ असमानता पर अपने विचार व्यक्त करती हैं।

महिलाओं का सामना कॉमेडी की दुनिया में कुछ ऐसी चीजों से होता है जो पुरुषों के लिए सामान्य होती हैं जैसे ऑउटस्पोकेन और कैंडिड होना। लेकिन इन प्रभावशाली महिलाओं ने अपनी निडरता से इन निर्धारित स्टीरियोटाइप को चुनौती दी और महिला कॉमेडियनस के लिए नए दरवाजे खोल दिए ।


मूल चित्र: via Youtube

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

टिप्पणी

About the Author

Mrigya Rai

A student with a passion for languages and writing. read more...

35 Posts | 271,818 Views
All Categories