कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

इन 6 महिला केंद्रित कोरियन ड्रामा को अब आप भी देख ही डालिये!

आजकल सब कोरियाई ड्रामा यानि के-ड्रामा की देखते हैं, आप भी कर सकते हैं अपनी शुरुआत इन 6 महिला केंद्रित कोरियन टीवी ड्रामाज़ के साथ। 

आजकल सब कोरियाई ड्रामा यानि के-ड्रामा की देखते हैं, आप भी कर सकते हैं अपनी शुरुआत इन 6 महिला केंद्रित कोरियन टीवी ड्रामाज़ के साथ। 

हाल के वर्षों में, नेटफलिक्स जैसे साइट्स पर मिलने वाले कोरियाई नाटकों की लोकप्रियता की एक नई लहर देखी गयी है, छोटे हों या बड़े, सब इसमें अत्यंत रुचि लेते हैं। कुछ महीनों पहले मैंने भी इन शो को देखना शुरू किया। कुछ चीजें जो मुझे इन शो में पसंद आयी वो थी इनकी दिलचस्प कथानक, कहानी का प्रवाह, स्वीट और क्यूट रोमैन्स और ख़ासकर इनकी प्रभावशाली महिला पात्र। इन पत्रों को देखकर मुझे प्रेरणा तो मिली ही लेकिन साथ ही स्ट्रोंग होने का भाव महसूस हुआ।

कोरियाई ड्रामा के महिला पात्र भी पहले नाज़ुक से ही थे 

जबकि कोरियाई नाटक शुरू में महिलाओं के नाजुक और भोलेपन के चित्रण में हिंदी सीरीयल्ज़ से अलग नहीं थे, लेकिन समय के साथ इन नाटकों में कहानी और महिला पात्रों के चित्रण की प्रगति हुई है। नए नाटकों ने प्रभावी महिला पात्रों को प्रदर्शित किया है जो रूढ़ियों और पूर्वाग्रहों को तोड़ते हैं। 

प्रारंभ में, नाटक पुरुष पात्रों और उनके कॉम्प्लेक्स चित्रण पर केंद्रित थे, जबकि महिला पात्र पर इतना ध्यान नहीं दिया जाता था, या ज्यादातर महिला पात्र पर पुरुष पात्र की प्रधानता दिखायी देती थी। लेकिन अब, महिला पात्रों को अधिक कॉम्प्लेक्स व्यक्तित्वों के साथ दिखाया जाता है और उनका विकसित प्रतिनिधित्व कहानी कहने के नए अवसरों को आगे लाता है।

इन महिला केंद्रित कोरियन ड्रामा में महिला पात्रों के विकास को दर्शाया गया हैं:

स्ट्रोंग गर्ल बोंग सून (Strong Woman Bong Soon)

यदि आपने स्ट्रॉन्ग गर्ल डू बोंग-सून को देखा है, तो आप जानते हैं कि यह शो रूढ़ियों को तोड़ने को एक नए स्तर पर ले जाता है।

दो बोंग सून पीढ़ियों से गुजरते हुए महाशक्तियों के साथ पैदा हुई है। उसके परिवार की हर औरत को सूपरपॉवर के रूप में महाशक्ति मिलती आयी है। इस विनम्र फीमेल लीड प्यारी और मासूम से दिखने के बावजूद बहुत शक्तिशाली है। दूसरों का बचाव करने के लिए उसके दृढ़ संकल्प और हिचकिचाहट उसको एक सुपरहीरो के रूप में दर्शाता है। 

शो में अन्य पुरुष पात्रों से ज़्यादा शक्तिशाली दिखा, हालाँकि काफ़ी समय मुख्य पुरुष पात्र का बचाव करती हुई, दो बोंग सून एक ऐसी महिला पात्र है जो बहुत ही प्यारे और लाइट हार्टेड तरीक़े से सामाजिक रूढ़ियों को तोड़ती है और महिला शक्ति का प्रदर्शन करती है।

सर्च : डब्लूडब्लूडब्लू (Search : WWW)

WWW में तीन महिला नायक के साथ महिला पात्रों का सबसे शक्तिशाली चित्रण दिखाया है। ये 3 महिलाएं अलग वेब कंपनियों में काम कर, डिजिटल दुनिया पर राज कर रही हैं। लेकिन देखने वाली बात यह है कि, इन एक ही क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं को एक-दूसरे के खिलाफ दिखाने के बजाय, यह नाटक दिखाता है कि कैसे महिलाएं एक-दूसरे को सशक्त बनाने के साथ-साथ अपनी निजी ज़िंदगी में कैसे दोस्ती निभाती हैं।

वेन द कैमेलिया ब्लूम्ज़ (When the Camelia Blooms)

ओह डोंगबेक, एक एकल माँ है जो ओंग्सन के काल्पनिक शहर में कैमेलिया नाम से एक बार चलाती है।

डोंगबेक को सीधी साधी पर बहादुर चित्रित किया है। एक छोटे से शहर के निवासी के रूप में जहां लोग एक-दूसरे को जानते हैं, डोंगबेक को एकल माताओं के तरफ़ पूर्वाग्रहों का सामना करना पड़ता है। लेकिन वह कैसे इनका सामना करती है और इनसे ऊपर उठती है और साथी आसपास के लोगों की मानसिकता में बदलाव लाती है, यह देखने लायक़ है।

वेट्लिफ़्टिंग फ़ेरी किम बोक जू (Weightlifting Fairy Kim Bok Joo)

दो बांग सून की तरह यह शो भी बेहद शारीरिक रूप से मजबूत महिलाओं की अवधारणा को चित्रण करता है। किम बोक जू एक प्रतिभाशाली वेटलिफ्टर है ।

वह अपने क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ है, लेकिन अपनी मजबूत शरीर के कारण वह “स्त्रीत्व (फ़ेमिनिटी) की कमी” के साथ संघर्ष करती है, लेकिन वह इससे ऊपर उठना सीखती है और जिस तरह से वह है, वैसे ही खुद को स्वीकार करती है। इस शो ने स्त्रीत्व का एक नया चित्रण दिखाया।

मिस्टर सन्शायन (Mr.Sunshine) 

आमतौर पर, पुराने समय में स्थापित किए जाने वाले ऐतिहासिक नाटक अक्सर महिला प्रधानों को नजरअंदाज करते हैं, लेकिन मिस्टर सनशाइन ने एक मजबूत महिला मुख्य किरदार को चित्रित किया, उस समय की सेट्टिंग में जहां पुरुष प्रभुत्व प्रचलित था।

इसकी मुख्य महिला पात्र, गो ए शिन एक अभिजात वर्ग की बेटी है, जो शक्तिशाली पुरुषों और सामाजिक पदानुक्रम से भरी दुनिया में रहती है। फिर भी वह एक बहादुर सेनानी है जो वही करती है जिसमें वह दृढ़ता से विश्वास करती है। अपने जीवन को अपने लोगों के लिए जोखिम में डालना, अपने विश्वासों के लिए अंत तक लड़ना और यह दिखाना कि एक आदमी जो भी कर सकता है, वह बेहतर कर सकती है।

हाई बाई मामा (Hi Bye Mama)

यह शो एक माँ की ममता को दर्शाता है और कैसे यह ममता की सीमा मौत भी नहीं।
इस शो की महिला पात्र, चा यू री अपनी मृत्यु के बाद भी पृथ्वी पर घूम रही हैं और अपने पति और बेटी को देख रही हैं। ग़ुस्सा करने और एक देवता को श्राप देने के बाद, यू री को फिर से एक बार इंसान बन जीना का मौक़ा मिलता है।पर इंसान बने रहने के लिए उसके पास सिर्फ़ 49  दिन है जिसमें उसमें अपना जीवन पहले जैसा बनाना है पर समस्या ये है की उसके पति ने दूसरी शादी कर ली है।

प्रत्येक एपिसोड में यू रि की  ताकत न केवल प्रेरणादायक है, बल्कि आपको रुला देगी। 

कई और नाटक जैसे अवेंजर्ज़ सोशल क्लब, डॉक्टर्स, वेगाबोंड, टेल मी वॉट यू सो आदि, टीवी शो में प्रभावशाली महिला पात्र दर्शाए गए हैं।

हिंदी शोज़ में भी मज़बूत महिला पात्र हैं ज़रूरी

शो और फिल्मों को बड़े प्रभावों के रूप में देखा जाता है, हमारे कुछ भारतीय शो जो महिलाओं को कमजोर और असहाय दिखाते हैं, भविष्य की पीढ़ियों के लिए एक बुरा प्रतिनिधित्व बनाने के लिए पर्याप्त हैं।

हिंदी शोज़ में हम आज भी उस्सी आदर्श बहु के किरदारों से घिरे हुए हैं। जबकि हिंदी सीरीयल्ज़ में भी धीरे धीरे बदलाव आ रहा है और कुछ अच्छे नए शोज़ जो महिलाओं के प्रगतिशील चित्रण दिखा रहे है जैसे अनुपमा, लेकिन कहीं ना कहीं हम आज भी वही पितृसत्तात्मकता में फंसे हुए हैं।

समाज में प्रगति होने में एक बहुत बड़ा हाथ मीडिया का भी होता है। लोग जो देखते हैं, वे उसी से प्रेरित हो वो चीजें करते हैं, साथ ही मानसिकता पर भी इसका बहुत असर होता है। इसलिए ऐसे शोज़ जो प्रभावशाली महिला पत्र को दर्शाएँ वो आज के समय में बहुत ज़रूरी है, ताकि इस  पितृसत्तात्मक सोच से हम ऊपर उठ सकें और समाज में असल प्रगति ला  सके, और औरतों को प्रेरित कर सकें।

नए शोज़ और सीरीयल्ज़ द्वारा हमारे हिंदी ड्रामास में भी प्रगति दिखायी दे रही है लेकिन कोरियाई ड्रामा के बराबर पहुँचाने के लिए हमें अभी काफ़ी जल्दी-जल्दी लम्बे कदम लेने होंगे।

ये महिला केंद्रित कोरियन ड्रामा नेटफ्लिक्स और विकी जैसे साइट्स पर देखने के लिए उपलब्ध हैं। हालाँकि, अभी यह केवल अंग्रेजी उपशीर्षक के साथ उपलब्ध हैं, लेकिन अब कई शोज़ हिंदी में भी डब्ड मिलते हैं 

मूल चित्र: यह फ़ोटोज़ मेन्शन किए शोज़ में से स्क्रीन्शाट ली गयी है।

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

About the Author

Mrigya Rai

A student with a passion for languages and writing. read more...

35 Posts | 280,663 Views
All Categories