कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

रंजनी हूँ! मैं, अब सिर्फ मैं हूँ

Posted: अक्टूबर 7, 2020

मैं रंजनी(आनंदित) हूँ, रजनी(रात)नहीं, मैं, अब सिर्फ मैं हूँ, किसी की अब मैं कोई प्रवंचना नहीं। मैं राही हूँ अपने ही मंज़िल का…

सफ़र है सुहाना, पथरीली डगर है,
पर मंज़िल अभी तुम नहीं हो।
राहो में है कांटे, पैरों में मधुर लहू बहे,
पर मंज़िल अभी तुम यहां नहीं हो।

मंजर है साफ कहीं दूर है लेकिन,
आज भी आंखो में बस दूर तुम कहीं और खड़े हो,
धूधली सी है छाया, कैसी है यह माया,
सब कुछ है पर अभी भी तुम पास नहीं हो।

मंज़िल को खोजते निकले थे छोटे रास्तों पे,
पता ना था यह मिलो दूर का चयन जो,
वो खुद का बहम था पर वो अभी तुम नहीं हो।
थक हार बैठ, उदास बैठ,
आंखो में हो रहे ओझल कई जिंदगी के सवाल ले बैठा।

मैं पार्थी हूं किस राही का, जो मुझे कोहरा सा दिख रहा,
ना दिखती मिलो रोशनी अब बस अंधेरा सा दिखा रहा,
हराता हूँ, टुटता हूँ, बिखरता हूँ, मैं,
अब खुद का ही मैं जाने क्यों काल निकला।

याद आई जब प्रथम चरण की फिर वही आगाज़ निकला,
मैं हूँ, अपने कुल श्रेष्ठ का जिम्मा,
जिसका मैं हमेशा बन के अभिमान निकला,
हर घड़ी में उसके ही प्रतिनिधित्व का मान निकलना।

हारूँ कैसे, रोऊं कैसे, रुक जाऊं कैसे,
यह प्रथा मेरे कुल की कभी नहीं थी,
मैं गर्जना हूँ, याचना नहीं, मैं उमंग हूँ,
मै कोई दुखी वेदना नहीं हूँ।

मैं वीर रस हूँ, अब मैं कोई विरह वेदना नहीं,
मैं रंजनी(आनंदित) हूँ, रजनी(रात)नहीं,
मैं, अब सिर्फ मैं हूँ,
किसी की अब मैं कोई प्रवंचना नहीं।

मैं राही हूँ अपने ही मंज़िल का,
सारथी हूँ अपने ही सवारी का,
मैं अहंकार हूँ, मैं ही ललकार हूँ,
मैं था समस्या अब मैं खुद ही उसका समाधान हूँ,
मैं पार्थी हूण अपने ही मंज़िल का,
मैं अभिमान हूँ अपने ही कूल का।

मूल चित्र : Karthik Pillai via Pexels

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Occupation -Lawyer , Blogger, Author, Social activities, " If my view at any one person to intratect

और जाने

महिलाओं का मानसिक स्वास्थ्य - महत्त्वपूर्ण जानकारी आपके लिए

टिप्पणी

अपने विचारों को साझा करें, विनम्रता से (व्यक्तिगत हमला न करें! वेबसाइट के नीची भाग में पूरी टिप्पणी नीति पढ़ें |)

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020