कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

कोकिला बेन के ‘रसोड़े में कौन था’ के वायरल होते प्रश्न के साथ खड़े हैं ये प्रश्न भी…

Posted: अगस्त 26, 2020

कोकिला बेन का ‘रसोड़े में कौन था’ बन चुका है UPSC में आने वाला अगला प्रश्न! वहां कौन था? तुम थी? मैं थी? कौन था? कौन था? आपने भी इसे धुन में पढ़ा ना?

क्या आपको पता चला रसोड़े में कौन था? आप थे? मैं थी? कौन था? और आखिर कुकर में से चने निकल कर गए कहाँ? क्या आपने बनाकर खाये?  जी, यहां बात हो रही है नॉन स्टॉप ट्रेंडिंग वीडियो की जो हाल ही मैं हर किसी के सोशल मीडिया से लेकर ज़बान पर छाया हुआ है। ये अब एक राष्ट्रीय प्रश्न बन चुका है। ट्विटर से लेकर इंस्टग्राम पर हर जगह सिर्फ एक ही रीमिक्स पर चर्चाएं हो रही है। आज के 10 साल पहले ऑन एयर हुए इस सीन को जब दुबारा से रीमिक्स किया गया तो ये इस कदर वायरल हो गया जो इस शो के मेकर्स ने भी कभी नहीं सोचा होगा। 

लॉक डाउन के बाद जब सभी पुराने सीरियल ऑन एयर हुए तो कई वापस से ट्रेंड में आये। और उन्हीं में से ये एक है ये आइकोनिक शो जिसे उस दौर में बहुत अधिक पसंद किया जाता था। और आज इतने सालों बाद सीरियल के किरदार कोकिला बेन, राशि और गोपी बहु फिर से ट्रेंड में आ गये हैं और इन पर हर किसी ने अपने तरीके से मिम्स, कई फनी पोस्ट बना दिए हैं। और आखिर राशि ने चने कहाँ रखें इसके लिए आपको इंटरनेट पर कई थ्योरीज़ मिल जाएगी।  इससे पहले भी इसी सीरियल का दृश्य जिसमे गोपी अपने पति का लैपटॉप वाशिंग मशीन में धोकर सुखाने को रख देती है और इस पर बने फनी पोस्ट आज तक बहुत पसंद किये जाते हैं। 

और क्या इस ट्रेंड के बाद आपका भी यही हाल हो रहा है?

या आप अभी भी कंफ्यूज हो रहें हैं ? मतलब आप अभी भी अनजान हैं इस ट्रेंडिंग वीडियो से, तो जानिये… 

20 अगस्त को म्यूजिक प्रोड्यूसर यशराज मुख़ाते ने अपने दो बड़े प्रोजेक्ट्स के बीच में एक शार्ट ब्रेक लेने के लिए हिंदी टीवी सीरियल साथ निभाना साथिया के एक दृश्य में ट्यूनिंग और बीट्स जोड़कर अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो पोस्ट किया था और ये वीडियो अचानक से इतना वायरल हो गया और इसे 57 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है और यशराज मुख़ाते बन चुके हैं बिनोद के बाद नई इंटरनेट सेंसेशन। 

ये साथ निभाना साथिया हिंदी सीरियल का एक साधारण सा दृश्य है जिसमे सास अपनी बहुओं से सवाल कर रही हैं। सास के किरदार में कोकिला बेन(रूपल पटेल) कहती हैं जब मेरी साड़ी पर जूस गिरा था और मैं दुबारा नहाने गयी थी तब तुम कुकर में चने चढ़ाकर मेरे पास आयी थी, तब रसोड़े में कौन था? (और यहीं आकर ये बन चुका है UPSC में आने वाला अगला प्रश्न) वहां कौन था ? तुम थी? मैं थी? कौन था? कौन था? आपने भी इसे धुन में पढ़ा ना ?

और इस पर सहमी हुई सी गोपी बहु ( जिया माणेक ) कहती है राशि बेन। और इसी को यशराज मुख़ाते  ने ऑटोट्यून ट्विस्ट डालते हुए एक मजेदार रैप म्यूजिक वीडियो बना दिया है। तो अगर आपको पता चले कि आखिर राशि ने क्यों कुकर में से चने निकाल कर खाली कुकर गैस पर चढ़ा दिया तो कमेंट में बताये। 

इस वीडियो को बॉलीवुड सेलिब्रिटी से लेकर पॉलिटिशियन तक सभी बहुत पसंद कर रहे हैं। स्मृति ईरानी ने जब इसे अपने अकाउंट से दुबारा शेयर करा था उसके बाद ही ट्रेंड में आया था। हाल ही में खबर ये भी आयी है की स्मृति ईरानी ने ये अब अपने अकाउंट से डिलीट कर दिया है।

लेकिन आपने सोचा की जब ये कोकिला बेन उर्फ़ रूपल पटेल तक पहुंचा तो उनका क्या रिएक्शन होगा? उन्होंने किस अंदाज़ में इसका ज़वाब दिया? उन्होंने क्या सोचा होगा? 

क्या ये? 

या फिर ये?

उन्होंने अपने अंदाज़ में इस पर रिएक्शन दिया। और वीडियो प्रोड्यूसर यशराज मुख़ाते को कॉल करके कहा, “मैं बहुत आश्र्यचकित और हैरान हूँ। मैंने सपने मैं भी नहीं सोचा था कि मेरे डायलॉग का इस तरह से म्यूजिक वीडियो बना दिया जायेगा। मुझे पता चला है कि स्मृति ईरानी ने भी इस वीडियो को शेयर किया है। अब इससे ज्यादा तो मैं ही कह सकती हूँ। हाँ अब मोदी जी तो शेयर करने से रहे (ऐसा मैंने नहीं, वीडियो बनाने वाले यशराज मुख़ाते ने इंडियन एक्सप्रेस दिए गए इंटरव्यू में कहा।) 

लेकिन क्या ये सब सही है?

कोकिला बेन और रसोड़े में कौन था! देखने में ये बहुत ही हास्पद लग रहा है, लेकिन क्या ये सब सही है ? क्या एक औरत ही दूसरी औरत की दुश्मन होती है? क्या सास इस तरह से बहु से बात करती है? क्या इस तरह से बहु को लेकर मजाक करना जायज़ है? क्यों हिंदी टीवी शो में औरतों को इस तरह से बेचारी दिखाया जाता है और ऑडियंस भी उन्हें सपॉर्ट करती हैं। और क्या हमारा कंटेंट क्रिएशन लेवल इस लेवल पर आ गया है जो बिनोद और इस तरह के कंटेंट को ही बढ़ावा मिल रहा है। 

क्यों इस तरह के कंटेंट को ही बढ़ावा मिल रहा है?

अगर इसी शो की बात करें तो इस की पूरी स्टोरी ही दो औरतों के आपस में लड़ने के इर्द गिर्द घूमकर रह गयी। इस शो के मुताबिक़ तो एक छत के नीचे दो बहुएँ एक साथ रह नहीं सकती हैं। और अगर न जाने गोपी बहु के किरदार जैसी कितनी महिलाएं होंगी जो कारणवश नहीं पढ़ पायी है तो क्या उनका इस तरह से मजाक बनाया जायेगा। उनको इस तरह से ज़लील करना ही पढ़े लिखे लोगो का अपनी पढ़ाई को इस्तेमाल करने का तरीका है। और इस तरह के बेचारी बहु को लेकर फनी पोस्ट पहली बार वारयल नहीं हो रहें हैं। ऐसा पहले भी बहुत बार हो चुका है। और ऑडियंस उन्हें इसी तरह से पसंद करती हैं। 

क्या हमारा कंटेंट क्रिएशन लेवल यहीं तक है?

हिंदी टीवी शो में जिस तरह से एक सास बहु के रिश्ते को दर्शाया जाता है, कहीं न कहीं वहीं ऑडियंस के दिमाग में घर कर लेता है और हर बहु अपनी सास को लेकर पहले से ही ऐसी धारणा बना लेती हैं और यही से जन्म लेती है औरत ही औरत की दुश्मन होती है जैसी कहावतें।  शायद हर दूसरे टीवी शो की कहानी इन्हीं किस्सों पर बुनी होती है। हां एंटरटेनमेंट के लिए कुछ हद तक सब ठीक होता है लेकिन क्या बस यही सब? इसके आगे भी कुछ होता होगा न औरतों की जिंदगी में। या फिर हमारा कंटेंट क्रिएशन लेवल यही तक है। इससे आगे नहीं सोच सकते हैं?  

खैर जिस तरह से आजकल सोशल मीडिया पर कुछ भी वायरल हो जाता है उसे देखकर तो यही लगता है। ( हां मैं यहां अभी कुछ दिनों पहले ट्रेंड में आये शब्द बिनोद की बात कर रही हूँ। कुछ सेंस था उसका?) 

एक बार इन सब प्रश्नों पर गौर करियेगा और अगर आपको पता चले की कुकर में चने कहाँ गए तो सबको बता देना। हो सकता है अगले आईएएस के इंटरव्यू में यही पूछा जाये। और अब जब एक रहस्य का खुलासा हो चुका है कि मिर्ज़ापुर का सीजन 2 आ रहा है तो ये नया रहस्य आ गया है जो क्या आने वाली कई पीढ़ी तक रहस्य ही बनकर रहेगा ?

मूल चित्र : Still from Yashraj Mukhate Video, Sath Nibhana Sathiya Hindi TV Show

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020