कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

आइये इस दिवाली पटाखों और मिठाइयों के साथ थोड़ा इन बातों पर भी ध्यान दें

Posted: अक्टूबर 26, 2019

तैयार है भारत की लक्ष्मी, विश्व में परचम लहराने को क्यूं न इस दीवाली पर हम, छोटा सा एक प्रण करें, अपमानित न हो कोई लक्ष्मी, इसका दृढ़ संकल्प करें!

करते हम सब लक्ष्मी का पूजन
मन में लेकर धन की आस।
निरादर करके घर की लक्ष्मी का,
क्यूँ होगा घर में, लक्ष्मी का वास।
पत्नी, बेटी, बहन या माँ,
सब में लक्ष्मी बसती है।
लक्ष्मी स्वयं आएगी दौड़कर,
जब घर की लक्ष्मी हँसती है।

बेताब है हर नारी अब
सफलता की ऊँचाई छूने को।
तैयार है भारत की लक्ष्मी,
विश्व में परचम लहराने को।
क्यूं न इस दीवाली पर हम
छोटा सा एक प्रण करें,
अपमानित न हो कोई लक्ष्मी,
इसका दृढ़ संकल्प करें।

धन में आग लगा कर कितना खुश होते हैं आप
इक रात में स्वाहा किए पटाखों के पैसों से,
कितने भूखे बच्चों का पेट भर सकते थे आप
कितने नंगे तन को कपडों से ढक सकते थे आप।

घर को तो चमका दिया पर,
बाहर लगा दिये कूड़े के ढेर
वतन को भी अपना घर समझो ,
इसको भी चमकाओ, बिना लगाए देर।

घर के कोने-कोने की बारीकी से
सफाई तो कर दी,
पर मन तो अब भी मैला है
लोभ-कुटिलता, परनिन्दा,
शिकायतों से भरा इक थैला है।
शिकवा शिकाययों का कूड़ा
मन से अगर हो जाए साफ
टूटे रिश्ते भी जुड़ जाएँ,
कर दे गर इक दूजे को माफ।

बाँट कर देखो खुशी
कई गुना बढ़ सकती है।
तुम्हारे थोड़ा सा देने से,
कई ज़िन्दगी बन सकती हैं
तेरी खुशियों का त्योहार।

इस दिवाली बस इतना कर लें
तो यकीनन चमक उठेगा मन,
घर के साथ खिल जाएगा,
कोमल मन का भी उपवन।

मूल चित्र : Canva 

Youtube पर देखने के लिए नीचे दिये link पर click करें।

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Samidha Naveen Varma Blogger | Writer | Translator | YouTuber • Postgraduate in English Literature. • Blogger at Women's

और जाने

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020