कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

खूबसूरत दिल की मल्लिका मिस यूनिवर्स ग्रेट बिट्रेन का दिल जीतने वाला दौरा!

एमा, मिस यूनिवर्स ग्रेट बिट्रेन, आगरा के शीरोज़ कैफे में एसिड सर्वाइवर्स से मिलीं, उनसे ख़ूब सारी बातें की और उसके बाद उन्हीं के साथ ताजमहल का भी दौरा किया।

उत्तर प्रदेश का जाना माना शहर और दुनिया के सातवें अजूबे का घर है आगरा, जहां बीते मंगलवार एक ख़ूबसूरत नज़ारा देखने को मिला। ब्यूटी विद ह्यूमैनिटी का सबसे प्यारा उदाहरण। कहते हैं ख़ूबसूरती इंसान की नज़रों में होती है, सूरत से कोई सुंदर या बदसूरत नहीं होता, ब्यूटी लाइज़ इन द आइज़ ऑफ़ द बेहोल्डर सही भी है। आप जैसा जिस चीज़ को देखना चाहेंगे, वो आपको वैसी ही दिखेगी।

मिस यूनिवर्स ग्रेट ब्रिटेन 2019 का ख़िताब जीतने वाली एमा जेन्किंस अपनी टीम के साथ ताजमहल देखने आगरा पहुंची थीं और उनके साथ पहुंची थीं कुछ एसिड अटैक सर्वाइवर महिलाएं भी। ये सभी महिलाएं आगरा के जाने माने कैफे शीरोज़ हैंगआउट में काम करती हैं। शीरोज़ कैफे में काम करने वाली हर महिला कभी ना कभी अपनी ज़िंदगी में एसिड अटैक का शिकार हुई है।

दुनिया जिन्हें बदसूरत, बुरा, घिनौना और ना जाने क्या क्या कहती है, जिन चेहरों को देखकर लोग अक्सर मुंह बना लेते हैं। उनकी हिम्मत और हौसले को बढ़ाने के लिए एमा का ये कदम वाकई काबिले तारीफ़ रहा। एमा इस कैफे में एसिड सर्वाइवर्स से मिलीं, उनसे ख़ूब सारी बातें की और उसके बाद उन्हीं के साथ ताजमहल का भी दौरा किया। ताजमहल में इन महिलाओं के साथ एमा घूमीं, बातें की और ढेर सारी तस्वीरें भी खिंचवाई। जितनी ये महिलाएं एमा से मिलकर ख़ुश थीं उतनी एमा भी इनसे मिलकर ख़ुश हुईं।

एमा ने कहा, ‘ताज महल पर मैंने बहुत फिल्में देखी हैं और असल में ये बहुत ही सुंदर है, मैं इसे देखकर स्पीचलेस हो गई। भारत और आगरा के लोगों ने मेरा बहुत ही गर्मजोशी से स्वागत किया।” आगरा के लोगों ने एमा का मन तो जीत लिया लेकिन एमा की इन महिलाओं को सम्मान और प्यार देने की इस कोशिश ने हमारा दिल भी जीत लिया।

 मूल चित्र : YouTube 

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Online Safety For Women - इंटरनेट पर सुरक्षा का अधिकार (in Hindi)

टिप्पणी

अपने विचारों को साझा करें, विनम्रता से (व्यक्तिगत हमला न करें! वेबसाइट के नीची भाग में पूरी टिप्पणी नीति पढ़ें |)

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?