हिंदी
महिलाओं से जुडी सारे मुद्दे अब पढ़िए हिंदी में और बनाइये अपने विचार भी हिंदी में!
“बस थोड़ा एडजस्ट कर लो!” अपनी ख़ुशी और शांति को भूल कर?

मैं समझती हूँ, गलती करने वाला और गलती को सहने वाला दोनों ही ज़िम्मेदार होते हैं, और सिर्फ एक आवाज़ चाहिए इसको शांत करने के लिए। % %

View Comments ( 0 )
ख़ूबसूरती-अपने दिल की सुनें-जो कहता है, “आप ख़ूबसूरत हो!”

"सांवला होना कोई अपराध नहीं और ना ही अभिशाप। आइये, अब हम भी यह मान लें कि ख़ूबसूरती रंग-रूप की नहीं, बल्कि आप कैसे व्यक्ति हैं उससे झलकती है।"

View Comments ( 0 )
प्रथा के नाम पर लड़कियों के स्तनों को जला डालना,ताकि कोई उन्हे रेप न करे

ब्रेस्ट आयरनिंग - लड़कियों की 'सुरक्षा' के नाम पर उनके स्तनों को जला डालना! हाँ, यह भयंकर रिवाज आज भी कायम है| जानिए प्रथा के नाम पर होने वाले एक और शोषण के बारे में| 

View Comments ( 0 )
मेरा घर कौन सा है बस इतना बता देना

मेरा घर कौन सा है, बस इतना बता देना - वो, जो कहता है बेटा वही तेरा घर है, या वो, जो कहता तू दुजे घर से आई है।  

View Comments ( 0 )
‘मैटरनिटी बेनिफिट एक्ट’ बेहद सराहनीय है, पर इसकी ग्राउंड रियलिटी अभी थोड़ी अलग है

'मैटरनिटी बेनिफिट एक्ट’ बेहद सराहनीय है, पर, इसकी ग्राउंड रियलिटी अभी थोड़ी अलग है। इसका कुछ व्यापक असर हो, यह बहुत ज़रूरी है |

View Comments ( 0 )
मेरी एक सहेली कुँवारी रह गई…

पढाई-डिग्री सब धरी रह गई, कैसे ये लड़की छड़ी रह गई - क्या आज भी शादी एक औरत की ज़िन्दगी का सबसे बड़ा मक़सद है?

View Comments ( 0 )

Stay updated with our Weekly Newsletter or Daily Summary - or both!