कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

हमारे बच्चे
बच्चों की ऑनलाइन ‘आपत्तिजनक कंटेंट’ देखने की आदत को कैसे सुधारें? कुछ सुझाव

बच्चों की ऑनलाइन पोर्न देखने की आदत से मैंने माता-पिता को परेशान होते देखा है लेकिन इसमें आपकी प्रतिक्रिया इस स्तिथि को सँभालने में एक अहम भूमिका निभाएगी। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
बच्चों को सिर्फ मंजिल ही नहीं सही राह दिखाना भी आवश्यक है

वर्तमान के दौर में माता-पिता से ये अनुरोध है कि अपने बच्‍चों को चाहे बेटा हो या बेटी घर या बाहर की सभी अच्‍छी-बुरी बातों से वाकिफ ज़रूर कराएं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
हर बच्चे और उनके पेरेंट्स के लिए एक ज़रूरी अपील

ये बेहद ज़रूरी है कि हम अपनी बच्चों को सुरक्षा के दायरे में रखें, अपने बच्चों को गुड टच और बैड टच की जानकारी बचपन से ही देना शुरू कर दें।

टिप्पणी देखें ( 0 )
बच्चा स्लो लर्नर है तो क्या हुआ? उस पर फेलियर का लेबल लगाना बंद कर दें

माना मेरा बच्चा स्लो लर्नर है, वह अपनी उम्र के बच्चों की तुलना में थोड़ा स्लो है क्यूंकि उसकी मानसिक आयु उसकी शारीरिक आयु से कम है। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
बच्चों की नैतिक शिक्षा घर से हो शुरू करें

आज ज़रूरत है कि माता-पिता अपने बच्चों को आवश्यक रूप से समय देते हुए उन्हें प्रारंभ से ही अच्छा-बुरा, सही-गलत इत्यादि के बारे में नैतिक शिक्षा अवश्य दें। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
बच्चों का व्यक्तित्व संवारें : यूँ ही अपने बच्चों का बच्चपन ना छीनें!

घर के बच्चों को जितना डांट कर रखा जाता है, वो बच्चे उतने ही दब्बू, संकोची, और कभी-कभी गुस्सैल भी हो जाते हैं, आप एक मार्गदर्शक की तरह उनको देखें। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
post_tag
%e0%a4%b9%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%87-%e0%a4%ac%e0%a4%9a%e0%a5%8d%e0%a4%9a%e0%a5%87
और पढ़ें !

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?