कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

समाज
रानू मंडल के व्यवहार की बात छोड़िये, ये सोचिये कि इन पढ़े-लिखे लोगों को क्या हुआ है?

क्या रानू मंडल के मन भी ऐसे कई सवाल और ऐसी कई दुविधाएं आती होंगी, इनका जवाब ढूंढने में मैं तो खुद ही अक्षम महसूस कर रही हूँ।

टिप्पणी देखें ( 0 )
आप शिखा की तरह हैं या उसके बॉस की तरह?

हम महिलाएं, घर और बाहर की जिम्मेदारी ईमानदारी से निभाती हैं, मगर तब भी अगर घर या ऑफिस में एक दिन का भी अवकाश मांग लें तो शंका का पात्र बन जाती हैं।

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्यों लड़कों की अपने ससुराल के प्रति कोई ज़िम्मेदारी नहीं होती?

हमारे समाज में लड़की वालों को कब तक लड़के वालों द्वारा बनाये गए मापदंडों पर खरा उतरना पड़ेगा? क्या शादी का मतलब है लड़की के घर वालों से लड़की का रिश्ता ख़त्म?

टिप्पणी देखें ( 0 )
मानते हैं ना आप कि बात करना बहुत आसान है पर निभाना मुश्किल?

चाहे कोई कुछ भी कहे पर अभी भी ज़्यादातर माँ-बाप को बेटी के ससुराल के साथ निभाना ही पड़ता है, चाहे वो लड़की के परिवार के साथ कैसा भी व्यवहार क्यों न करें।

टिप्पणी देखें ( 0 )
समीरा रेड्डी कहती हैं, खुलकर अपने डर पर बात करो, मज़ाक उड़ाने वालों को मुंह तोड़ जवाब दो!

एक्ट्रेस समीरा रेड्डी कहती हैं, “एक टीनएज होने के बावजूद भी मुझ पर अच्छा दिखने का बहुत प्रेशर था।” अपनी इंसिक्योरिटी पर समीरा ने बड़ा ही बेबाक होकर लिखा है। एक एक्ट्रेस हैं समीरा रेड्डी, नाम से शायद आपको याद ना आए लेकिन उन्होंने बॉलीवुड में एक टाइम में काफी फिल्में की हैं और डांस […]

टिप्पणी देखें ( 0 )
क्यों नहीं नारी अपने लिए सजती सँवरती?क्यों नारी स्वार्थपरता नहीं अपनाती?

१२ साल से शिव को पाने के लिए अनेकों निर्जल व्रतों के कठिन नियम मानते-मानते इस बार मेरे मन में ये प्रेरणा आई कि क्यों न मैं ये सारे व्रत सिर्फ अपने लिए रखूँ।

टिप्पणी देखें ( 0 )
post_tag
%e0%a4%b8%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%9c
और पढ़ें !

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020