कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

Vidhi Jain

Voice of Vidhi Jain

बहू! खाना बनाना सिर्फ तुम्हारा नहीं मेरे बेटे का भी काम है…

इधर भूमि के ऑफिस में इतना काम रहता था कि वो किचिन में ज्यादा वक्त नहीं दे पाती थी। सास के जाने के बाद भूमि ने खाना होटल से मँगवाया।

टिप्पणी देखें ( 0 )
मैं अपनी खुशियों का ख्याल खुद रखूंगी…

अगर आप इसी मीनल से कुछ दिन पहले मिलते तो वो परेशान रहने वाली मीनल थी। लेकिन ये बदलाव आया कैसे? अभी कुछ दिन पहले की बात है...

टिप्पणी देखें ( 0 )
मुझे सुकून के दो पल मायके में ही मिलते हैं…

चार दिन के लिए ही मायके गई थी वो, लेकिन उसके जाने के नाम से ही घर में परेशानी हो गयी थी। बात ये भी थी कि ससुराल में उसे आराम न मिलता था।

टिप्पणी देखें ( 0 )
सास ने दी नयी पहचान

नूरी का खुशी का ठिकाना नहीं था, आज नूरी की पहचान की जिम्मेदार उसकी सास थी। कुछ दिनों में नूरी को पूरा शहर पहचानने लगा

टिप्पणी देखें ( 0 )

The Magic Mindset : How to Find Your Happy Place

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020

All Categories