कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

Sushma Tiwari

Name sushma, somewhere it means "Gift of God",a nature lover, has spiritual believes. Born in "sapno in nagari" Mumbai,originally from Bihar. Currently living in Mumbai. Travelled and studied in many cities of India as father was in Indian Navy. Done Honours in Psychology from JP University and MBA in HR from Somaya college Mumbai . Love to do creative work either it is cooking, baking or drawing, painting, sketching, dress designing. Reading books from all genres, poems, shayris are favourite pass time. Actively involved in writing short stories and poems on various platforms. Philosophy is "I'm not a writer by profession or passion, I'm writer by some reason."

Voice of Sushma Tiwari

मेरी बहू नार्मल नहीं अमेज़िंग है…

किसी ने सही कहा है,जब अमेजिंग हो सकते हैं तो नॉर्मल क्यों होना? मेरी बहू अमेजिंग है तो मैं भला इसकी तुलना दूसरों से क्यों करूं? 

टिप्पणी देखें ( 0 )
रोके तो भी ना रुके, नारी तेरी शक्ति असीम!

इतिहास गवाह है कई उदाहरण हैं, नारी हर क्षेत्र में आगे बढ़ी है, उनकी वीर गाथायें असाधारण हैं, पहले भी थी मुश्किलें कुछ अब भी खड़ी हैं।  

टिप्पणी देखें ( 0 )
हिन्दी मेरा अभिमान – मेरा गर्व, मेरा सम्मान, मेरी सोच, मेरा ज्ञान है

मुझे विदेशी भाषाओं से नफरत नहीं। हम चाहे कितना भी घूम लें, सुकून तो घर आकर ही मिलता है, वैसा ही हिन्दी में एहसास है। हिन्दी के लिए क्या बताऊँ, वो तो मां है!

टिप्पणी देखें ( 0 )
हिन्दी मां है, रूह है मेरी – हर दिन हिन्दी दिवस है मेरा उसपे क्या लिखूं

चाहे कितने देश घूमें करे जतन, मातृभाषा का सुकून है वैसा, जैसा लौट के घर आओ तो झूमे मन, हर दिन हिन्दी दिवस है मेरा, हर दिन उसके ही नाम जियूं। 

टिप्पणी देखें ( 0 )

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020