Neelam Rastogi

Voice of Neelam Rastogi

वेदना-दिल की बात, कोई मुझसे तो पूछे

"पर कोई मुझसे तो पूछे, कि सच नहीं ये जीवन मेरा, ये तो बस एक कहानी है"- ज़रूरी नहीं कि जो दिखे वही सच्चाई है। कई मर्तबा जो नज़र आता है वह हक़ीक़त से कहीं परे होता है। 

टिप्पणी देखें ( 1 )
और हाँ, मैं मायके के कौले ठंडे करके नहीं आई

ससुराल में कदम रखते ही सास ने कहा,"बहु बनके चलो घर मैं", तब एहसास हुआ ज़िन्दगी पलट गई। अब बेटी का प्यार नहीं, बहु के नियम निभाने थे।

टिप्पणी देखें ( 0 )

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?