कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

RUCHIKA KHATRI

Voice of RUCHIKA KHATRI

भाभी के आने से मेरा घर बदला हुआ लगता है…

एक बात बताओ जब यही सब कुछ तुम्हारे भाई की शादी के बाद तुम्हारी भाभी के आने के बाद हो रहा है तो तुम्हें बुरा क्यों लग रहा है?

टिप्पणी देखें ( 0 )
अपनी पत्नी पर ऐसा इलज़ाम लगाते हुए आपको शर्म नहीं आयी?

वहाँ मेरे आत्मसम्मान को ठेस पहुंची है, मेरे चरित्र पर उंगली उठी है और मुझ पर उंगली उठाने वाला कोई और कोई नहीं मेरा ही जीवन साथी है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
घर की शादी में जाना तो बनता है न…

हर कोई अगर ऐसा ही सोचता रहा कि हम तो केवल अपने रिश्तेदारों के घर जा रहे हैं और हमें तो वैसे भी कोरोना नहीं है, तो फिर यह कड़ियां कैसे टूटेंगी?

टिप्पणी देखें ( 0 )
बहु, ईश्वर जल्दी तेरी गोद भरेंगे…

आजकल की लड़कियों के बड़े नखरे हैं, यह नहीं सोचती कि अगर बड़े कुछ कह रहे हैं तो भले के लिए ही कह रहे हैं। इन्हें तो बस अपनी ज़िद प्यारी है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
उस अनजान फोन कॉल के आते ही मैं सब समझ गयी…

माही वॉशरूम में थी लेकिन उसका फोन वाइब्रेशन मोड पर बज रहा था। कोई अननोन नंबर था इसलिए कुमुद ने भी कॉल रिसीव नहीं किया।

टिप्पणी देखें ( 0 )

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020