कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

Kanchan Jain

Voice of Kanchan Jain

तुम सीख लेना…

कभी भी जीवन में हमेशा ऊँचाइओं से वास्ता हो तो ज़मीनी राब्ते को मत भूलना, हमको याद रखना होगा और तैयार रहना होगा हर विपरीत परिस्तिथियों में जीने के लिए। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
चलो एक बार फिर….

बचपन जितना सुहावना होता है जवानी उतनी ही व्यस्त, बचपन एक ख़ुशहाल एहसास है,जिसे कभी नहीं भुलाया जा सकता। 

टिप्पणी देखें ( 0 )
हम कौन होते हैं दूसरों को जज करने वाले

बस करो अब! बंद करो अब हमें जज करना, हमारे नेचर से हमारे करैक्टर को जज करना, हमारे पहनावे से हमारे ज़मीर को जज करना बंद करो!

टिप्पणी देखें ( 0 )
बदलते वक़्त के साथ कदम मिलाते हुए अगर आपकी सासु-माँ नौकरी करती हों तो…

"बुरा मत मानना बहू, पर मेरा तजुर्बा कहता है...तू ही बता कौन ब्याहेगा अपनी बेटी को ऐसे घर, जहाँ सास ही नौकरी करती हो? मैं तो तेरे भले के लिए कह रही हूँ..."

टिप्पणी देखें ( 0 )
वो पहली बार जब हम मिले – यादें उस हसीन मुलाकात की!

पहली ही मुलाकात के बाद रिया के दिल में राहुल के लिये और भी इज्ज़त बढ़ गई, वहां से जाने के बाद उसे अब बस राहुल के हाँ करने का इंतजार था।

टिप्पणी देखें ( 0 )
यदि पैसा सब कुछ नहीं है तो इसके कारण करीबी रिश्तों में दूरियां क्यों?

माँ आप ही बताओ मुझे कुछ चाहिए तो मैं किसके पास आऊँगा? आपके पास ना? तो आपको कुछ चाहिए तो आप अपनी मम्मी से ही मांगोगे ना?

टिप्पणी देखें ( 0 )

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020