कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

Arsin Fatma

Arshin Fatmia

Voice of Arsin Fatma

क्या आपके बेटे को आपकी गलत बात भी माननी चाहिए?

माँ आप हमेशा संजना के पीछे पड़ी रहतीं हैं, अगर उसने आपको जवाब देना शुरू कर दिया तब मैं कुछ नहीं कर पाऊंगा, क्यों कि सहने की भी एक सीमा होती है।

टिप्पणी देखें ( 0 )
‘घर की बात घर में ही रहे’ के चलते अपने रिश्तों की बलि न चढ़ाएं

मुझे लगा वो मेरे पीछे आएंगे इसलिए मैंने मोबाइल कैमरा छुपा कर चला दिया, इतने दिनों से मेरे पास सबूत नहीं था इसलिए मैं बता भी नहीं रही थी।

टिप्पणी देखें ( 0 )
खुशनसीब हैं वो जिन्हें दो माओं का प्यार मिलता है…

मुझे कोई समस्या नहीं, मेरे लिए तो अच्छा है मुझे दो-दो मांओं का आशीर्वाद मिलेगा और तुम भी बेफिक्र रहोगी। बच्चे भी खुश रहेगें दादी-नानी का साथ पाकर।

टिप्पणी देखें ( 0 )
‘वो जैसी भी है मेरी पत्नी है’ क्या आप भी ऐसा मानते हैं?

"कसम से आप इतनी मासूम हो कि मेरे जैसा इंसान आपके ऊपर होने वाली ज्यादती बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है। पता नहीं ये लोग किस मिट्टी के बने हैं।"

टिप्पणी देखें ( 0 )

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?