कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

अपने बीते कल को देख कर मुस्कुराना ज़रूर…

कभी किसी वक्त उस पन्ने को पलट के देखना ज़रूर, अपने बीते हुए कल को निहारना ज़रूर, फिर एक बार तुम मुस्कुराना ज़रूर… आओ ज़िंदगी के उस पन्ने की बात करेंजिसने तुम्हें एक नया चेहरा दिया है,जिसने तुम्हें मुसीबत से लड़ने का हौंसला दिया है,जिसने तुम्हें आज फिर से जीना सिखाया है। आओ आज उस […]

कभी किसी वक्त उस पन्ने को पलट के देखना ज़रूर, अपने बीते हुए कल को निहारना ज़रूर, फिर एक बार तुम मुस्कुराना ज़रूर…

आओ ज़िंदगी के उस पन्ने की बात करें
जिसने तुम्हें एक नया चेहरा दिया है,
जिसने तुम्हें मुसीबत से लड़ने का हौंसला दिया है,
जिसने तुम्हें आज फिर से जीना सिखाया है।

आओ आज उस पन्ने को पलट के देखें
जिसमें बरसों का धूल जमा हुआ है,
जो दिल के कोने में आज सुरक्शित है,
तुम्हारे नज़रों से दूर मगर मन के बहुत क़रीब है।

हाँ ये वो पन्ना है जिसे
ना तुम पलट के देखना चाहते हो,
ना ही जला के राख बना पाए हो।

कुछ खोके कुछ हासिल तुमने भी किया होगा
कुछ ग़लतियाँ तुमसे भी हुई होंगी,
क़ुसूर तुम्हारा भी उतना ही होगा
जितना उस वक्त का था
जब इस पन्ने ने अपना रूप रंग था अपनाया।

ज़िंदगी के ख़ूबसूरत किताब का वो पन्ना
आज भी जब हवा के झोंके से सामने आ जाता,
तुम्हें बीते हर कल के
हर पल को जीता हुआ दिखा जाता।

हाँ माना वो दर्द भरा है,
मगर उसने ही तुम्हें
हर मुश्किल में मुस्कुराना सिखाया है,
कभी किसी वक्त उस पन्ने को पलट के देखना ज़रूर। 

अपने बीते हुए कल को निहारना ज़रूर,
अपने हर तकलीफ़ को भूलाकर,
फिर एक बार तुम मुस्कुराना ज़रूर,
फिर एक बार तुम मुस्कुराना ज़रूर…

मूल चित्र: Still from Parachute India Ad Via Youtube 

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

A Writer by heart and Doctor by profession, love starting the day with language and

और जाने

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020

All Categories