कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

भाभी, साड़ी में आपके स्ट्रेच मार्क्स नज़र आते हैं…

Posted: मई 7, 2021

एक औरत जब मां बनती है तो उसमें शारीरिक बदलाव होना बहुत ही नॉर्मल सी बात है और यह कोई शर्म की बात नहीं है।

“निशिका भाभी, आप साड़ी नाभि के ऊपर पहना करो क्योंकि आपके स्ट्रेच मार्क्स नजर आते हैं। जो दिखने में बड़े ही गंदे दिखते हैं।”

ऐसा कहकर अनन्या हंसने लगी। उसने सभी लोगों के बीच में निशिका से यह बात कह दी। निशिका को बुरा तो बहुत लगा, लेकिन अनन्या उसकी ननद ठहरी इसलिए कोई जवाब ना दे सकी। पर शायद यह अनन्या की आदत हो गई थी। वह हर जगह निशिका का मजाक उड़ा देती थी।

निशिका सुशांत की पत्नी है और इस घर की बहू है। जो कुछ महीनों पहले ही मां बनी है। ज़ाहिर सी बात है कि प्रेग्नेंसी के कारण उसके शरीर में काफी बदलाव हुए होंगे और पेट पर स्ट्रेच मार्क्स भी बन गए हैं।

अपने शरीर पर बने इस तरह के निशान से तो वह खुद ही जूझ रही थी कि उसकी ननद अनन्या का ऐसा कहना उसके आत्मविश्वास की धज्जियां उड़ा गया।

कुछ दिन बाद अनन्या की शादी होने वाली है इस कारण से साक्षी दीदी, बुआ जी और घर के सभी सदस्य एकत्रित हुए थे। फूफा जी, जीजा जी, सुशांत, पापा के साथ कमरे में शादी में होने वाले प्रोग्राम के बारे में डिस्कशन कर रहे थे।

वहीं महिलाएं कौन क्या पहनने वाला है इसी बात को लेकर डिस्कशन कर रही थी  कि अनन्या ने अचानक से निशिका से इस तरह से बात कर दी। यह बात साक्षी दीदी को भी बिल्कुल अच्छी नहीं लगी।

उन्होंने कहा, “अनन्या तुम्हें निशिका से इस तरह से बात नहीं करनी चाहिए। वह भाभी है हमारी और इस घर की बहू है।”

“पर मैं सच ही तो कह रही हूं। स्ट्रेच मार्क्स दिखने में कहाँ सुंदर दिखते हैं। ये तो छुपा कर ही रखना चाहिए। पहले ही कहा था भाभी को कि अपना ध्यान रखो। अब हो गए ना स्ट्रेच मार्क्स”, अनन्या ने बेशर्मी से कहा।

“तुझे किसने कहा कि स्ट्रेच मार्क्स शर्म की बात होती है? एक औरत जब मां बनती है तो उसमें शारीरिक बदलाव होना बहुत ही नॉर्मल सी बात है और यह कोई शर्म की बात नहीं है।”

“हां, सही कहा साक्षी तुमने। अगर औरत इन छोटे-मोटे स्ट्रेच मार्क्स से डर जाए तो शायद ही कोई औरत मां बनने को तैयार हो। इसलिए अनन्या अपनी भाभी का सम्मान करना सीखो”, अनन्या की मम्मी ने कहा।

“भाभी मुझे माफ कर दीजिए। मैं आज के बाद आपके स्ट्रेच मार्क्स पर कभी कोई कमेंट नहीं करूंगी।” अनन्या अपने कहे पर खुद ही शर्मिंदा हो गयी।

“कोई बात नहीं अनन्या, तुमने समझा यही बड़ी बात है”, कह कर निशिका ने अनन्या को गले लगा लिया और सब फिर से शादी की तैयारी में मगन हो गए।

मूल चित्र: Rmkv Silks via YouTube

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020