कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

मदर्स डे 2021 : मैं अपने बच्चों के साथ ऐसा कभी नहीं करुँगी!

ब्रेक द चेन क्यूंकि अपने अनुभव से आपने प्रण लिया कि मैं अपने बच्चों के साथ ऐसा नहीं करुँगी! तो आइये मदर्स डे 2021 पर यही बात करें!

ब्रेक द चेन क्यूंकि अपने अनुभव से आपने प्रण लिया कि मैं अपने बच्चों के साथ ऐसा नहीं करुँगी! तो आइये मदर्स डे 2021 पर यही बात करें!

मदर्स डे 2021 की हमारी थीम है ब्रेक द चेन यानि इस कड़ी को तोड़ें और हमेशा की तरह हम यही मानते हैं कि अगर हम कुछ अलग देखना चाहते हैं तो शुरुआत हमें खुद से करनी होगी।

ब्रेक द चेन

पेरेंटिंग आसान नहीं है, और आज भी अधिकांश माएँ अपने बच्चों की परवरिश सकारात्मक और ध्यान पूर्वक तरीके से करने के लिए ज़िम्मेदार हैं, तब हम जाने-अंजाने अपनी माँ से सीखे गए पेरेंटिंग के तरीके अपने बच्चों पर आज़माते हैं। और ऐसा होना स्वाभिक भी है। लेकिन इनमें कुछ बातें आपको ठीक नहीं लगती थीं।

लेकिन ये कड़ी या चेन क्या है?

ये कड़ी है ऐसी परवरिश की जिसके आप खिलाफ हैं। इसका अनुभव आपने अपने बचपन में किया और कहीं न कहीं बड़े होते होते प्रण लिया कि मैं ऐसा अपने बच्चों के साथ ऐसा नहीं होने दूँगी या मैं ऐसा अपने बच्चों के साथ नहीं करुँगी। 

तो ये एक मौका है आपके लिए, अपने अनुभव दूसरों से साझा करने का। 

हमें बताएं आपकी पेरेंटिंग अलग कैसे है? परवरिश के ऐसे कौन से तरीके हैं जो आपकी माँ ने अपनाए, लेकिन, आप अब उन तरीकों को पीछे छोड़ देना चाहती हैं। 

आप अपनी व्यक्तिगत कहानियां , या अपनी माताओं की निजी कहानी भी भेज सकते हैं, जो इस श्रृंखला को तोड़ती हैं। 

इस थीम से जुड़ें और अपने व्यक्तिगत अनुभव, दृष्टिकोण लिख भेजिए हमें!

Never miss real stories from India's women.

Register Now

आपको क्या करना होगा

  • ऊपर दी गयी थीम को ध्यान से पढ़ें।
  • इससे जुड़ी अपनी कहानी के लिखें।
  • अपनी कहानी को डैशबोर्ड* पर अपलोड करें।
  • पोस्ट के टाइटल में  ‘मदर्स डे 2021’ ज़रूर शामिल करें।

डेडलाइन

  • आप अपनी कहानी को 4 मई 2021, रात 11:59 बजे तक विमेंस वेब हिंदी डैशबोर्ड* पर अपलोड कर सकते हैं।
  • तीन बेस्ट कहानियों को हम पब्लिश करेंगे 7/8/9 मई 2021 को। प्रतिदिन एक पोस्ट!

*इस बटन/लिंक के ज़रिये, लॉगिन करें (हिंदी भाषा चुनें) या खुद को रजिस्टर करें और अपनी पोस्ट को डैशबोर्ड पर अपलोड करें।

इस कांटेस्ट के कुछ खास नियम

  • अपनी कहानी को 500-1000 शब्दों में कहें। इस लिमिट से बाहर कहानियां इस कांटेस्ट के लिए अयोग्य होंगी।
  • आपकी ये कहानी आपकी अपनी कहानी हो, आपके अपने जीवन का निजी अनुभव। काल्पनिक कहानियां इस कांटेस्ट के लिए अयोग्य होंगी। आपकी कहानी अनपब्लिश्ड हो। इसे पहली बार विमेंस वेब पर ही पब्लिश किया जाएगा। टॉप 3 की घोषणा के बाद, आप अपनी कहानी को अन्य प्लेटफार्म पर पब्लिश कर सकते हैं।
  • इस कांटेस्ट की टॉप 3 कहानियां : अपनी पूरी कहानी कहीं और पब्लिश नहीं कर सकते। आप चाहें तो कहानी का एक भाग पब्लिश कर सकते हैं, लेकिन सिर्फ विमेंस वेब पर प्रकाशित पूरी कहानी के लिंक के ज़रिये।

जल्द ही अपनी कहानी को अपलोड करें। 

अंतिम तिथि : 4 मई 2021, रात 11:59 बजे

तो देर किस बात की? हमें और आपके सह पाठकों इंतज़ार रहेगा आपकी कहानियों का।

मूल चित्र : Vardhan from Getty Images Signature via Canva Pro 

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

टिप्पणी

About the Author

Pragati Adhikari

Designer, Counsellor, and Therapeutic Arts Specialist. Advisor on board for Ideaworx. read more...

10 Posts | 26,772 Views
All Categories