कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

रजनी चांडी को इस उम्र में क्या पहनना चाहिए ये बताने वाले हम कौन होते हैं?

रजनी चांडी का बोल्ड ओर कांफिडेंट फोटोशुट हर महिला के लिए प्रेरणादायक है, जिन्हें अपने मन की उड़ान भरने की इच्छा है। 

रजनी चांडी का बोल्ड ओर कांफिडेंट फोटोशुट हर महिला के लिए प्रेरणादायक है, जिन्हें अपने मन की उड़ान भरने की इच्छा है। 

69 साल की रजनी चंडी को उनके कपड़ों की वजह से हाल ही में ट्रोल किया गया था क्योंकि उन्होंने नये तरह के परिधान पहने और अपनी फोटोशुट करवा कर तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की। इस कारण से लोगों ने उन्हें ट्रोल कर दिया। वहीं कुछ लोगों ने उन्हें अभद्र भाषा कही, तो कुछ लोगों ने उम्र का हवाला दे दिया। अब उम्र का हवाला देने वाले लोगों को बताना मुश्किल है कि उनकी खुद की मानसिक हालत ठीक नहीं है।

लोगों ने यह तक लिख दिया कि अब उनकी उम्र शरीर दिखाने के लायक नहीं है। ऐसा लिखने वाले लोगों को बताना और समझाना बहुत दूर की बात है क्योंकि इन्होंने ही ऐसे समाज का गठन किया है, जिसमें कहा जाता है कि महिलाएं केवल शरीर दिखाने के लिए ही कपड़े पहनती हैं। 

समाज जब कुंठित मानसिकता की बेड़ियों में जकड़ जाता है, तब ऐसे ही शब्दों से अपना परिचय देता है। बहरहाल ऐसे लोग आते-जाते रहेंगे मगर अपनी तरह से जीना कभी नहीं छोड़ना चाहिए। 

परिधान पहनने के लिए उम्र नहीं जरुरी

रजनी चांडी का मानना है कि महिलाओं को अपनी खुशी के लिए परिधान पहनने चाहिए, जिसमें उन्हें खुशी मिलती है। एक तरफ कुछ महिलाओं का मानना होता है कि 40-50 साल की उम्र पार करते ही खुद पर क्या ही ज्यादा ध्यान देना, उन महिलाओं के लिए रजनी चांडी का यह बोल्ड फोटोशुट जज्बा पैदा करता है कि महिलाओं को उम्र की दहलीज जरुर पार करनी चाहिए ताकि उन्हें अपनी केयर हो। समाज भले ही महिलाओं को कपड़ों के बल पर जज करेगा मगर समाज जब गलत करता है, उस वक्त वह अपनी गलतियों का वकील जल्दी बन जाता है। 

महिलाओं को करनी चाहिए अपनी केयर

मनोचिकित्सकों का भी मानना है कि महिलाओं को हर उम्र में अपनी देखभाल करते रहनी चाहिए क्योंकि पहले स्वयं से प्यार करना चाहिए। जब आप खुद को प्रायोरिटी देंगे, तब ही आप अपनी नज़रों में भी स्वयं को बेहतर मानेंगे। उम्र महज एक नंबर गेम है, जिसमें लोग समाते चले जाते हैं कि अब उम्र बढ़ रही है इसलिए अब पहले के तरह रहने की क्या जरुरत है?  

हर उम्र में रहें बोल्ड

सच्चाई यह है कि जब महिलाएं खुद को तवज्जो देंगे तभी अपने-आप से प्यार कर पाएंगी। क्या पहनना है, क्या खाना है, कहां घुमना है और बाकि सभी बातों को करने का मन महिलाओं को खुद का होना चाहिए। नये और सेक्सी परिधान पहनने के लिए उम्र को निहारने की जरुरत नहीं होनी चाहिए क्योंकि उम्र को गिनने के लिए लोगों की भीड़ बैठी है। हमेशा अपने पसंद को प्रयोरिटी देना चाहिए ताकि लोगों का मुंह बोलने से पहले ही बंद हो जाए। 

रजनी चांडी का बोल्ड ओर कांफिडेंट फोटोशुट हर महिला के लिए प्रेरणादायक है, जिन्हें अपने मन की उड़ान भरने की इच्छा है। मेेरा भी मानना है कि जिंदगी का हर एक पल अनोखा होना चाहिए, जहां अपने मन का करने और अपनी जिंदगी अपने तरह से जीने की कामना जिंदा होनी चाहिए।

Never miss real stories from India's women.

Register Now

मूल चित्र : Athira Roy, BBC

टिप्पणी

About the Author

62 Posts | 229,381 Views
All Categories