कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

अर्शी खान को अगर ज़्यादा चोट आती तो ज़िम्मेदार कौन होता बिग बॉस या विकास गुप्ता?

एक महिला होने के तौर पर मैं बिग बॉस 14 में विकास गुप्ता का अर्शी खान के साथ किये गए इस उत्तेजक और हिंसक व्यवहार की निंदा करती हूँ।

एक महिला होने के तौर पर मैं बिग बॉस 14 में विकास गुप्ता का अर्शी खान के साथ किये गए इस उत्तेजक और हिंसक व्यवहार की निंदा करती हूँ।

कलर्स टीवी पर आने वाला टेलीविज़न का सबसे चर्चित और विवादित शो साथ ही एंडेमोल शाइन द्वारा प्रोड्यूस बिग बॉस 14 इन दिनों खुब सुर्खियां बटोर रहा है। जहाँ एक तरफ कई पुराने खिलाड़ी वापस घर लौट आये हैं तो वहीं नये आये चैलेंजर्स भी एक दूसरे के साथ उलझते नज़र आ रहे है। पिछला पूरे हफ्ते दर्शकों को लगातार विकास गुप्ता और अर्शी खान में तकरार और आपसी बहस देखने को मिली।

अब सुनने में आ रहा है कि बिग बॉस के घर से विकास गुप्ता को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। कलर्स चैनल के इस फैसले के पीछे का स्पष्ट कारण है अर्शी खान के साथ विकास का हिंसक व्यवहार। जैसा की प्रोमो में देखने को मिला और पिछले एपिसोड में भी दर्शकों ने देखा मास्टर माइंड विकास और अर्शी खान लगातार एक दूसरे से बहस करते नज़र आये। अर्शी भी विकास को लगातार उकसा रही थी, जिससे विकास ने नाराज़ हो अर्शी को पूल में धक्का दे दिया।

बिग बॉस 14 में विकास गुप्ता का ये व्यवहार महिला के खिलाफ हिंसा का ही रूप है

एक महिला होने के तौर पर मैं विकास के इस उत्तेजक और हिंसक व्यवहार की निंदा करती हूँ। जब ये गेम ही माइंड का है और सारे कंटेस्टेंट शब्दों का प्रयोग कर के ही अपनी बात रख सकते है तो कोई भी सेलिब्रिटी कंटेस्टेंट इस तरह का हिंसक व्यवहार कैसे कर सकता है? सिर्फ महिला ही नहीं, किसी के भी साथ क्या ये बर्ताव सही है?

क्या नेशनल टेलीविज़न पर पुरुष सेलिब्रिटी सदस्य के द्वारा अपनी साथी महिला सदस्य के साथ इस तरह के व्यवहार करना उचित है? मैं तो विकास गुप्ता के इस व्यवहार को महिला के खिलाफ हिंसा ही मानूंगी।

बिग बॉस की गेम का आधार ही है की कंटेस्टेंट को शो के दौरान अपना धैर्य बना के चलना है। कंटेस्टेंट को हर अहम मुद्दे पे अपनी राय रखने की आजादी होती है तो साथ ही बहस करने की भी। देखा गया है कई बार गलत भाषा का प्रयोग भी कंटेस्टेंट करते नज़र आते है जिन्हें बिग बॉस द्वारा टोका भी जाता है लेकिन इस बार विकास गुप्ता के द्वारा जो हिंसक व्यवहार का प्रदर्शन किया गया वो बेहद ही शर्मनाक है।

प्रोमो देखने के बाद मैं ये सोचने पे मजबूर हो गई क्या अर्शी की जगह कोई पुरुष खिलाड़ी होते तो भी क्या विकास ऐसा हिंसात्मक कदम उठाते?

एक महिला जब नेशनल टेलीविज़न पे कई कैमरों के बीच और कई अन्य सदस्यों के सामने अपने साथी पुरुष कंटेस्टेंट के गुस्से का शिकार बन सकती है तो घरेलु हिंसा की मैं क्या ही बात करू जहाँ ना कैमरे होते है ना ही कोई बिग बॉस जो फैसला सुना दे।

Never miss real stories from India's women.

Register Now

कौन है विकास गुप्ता और अर्शी खान

विकास का बिग बॉस के साथ साथ टेलीविज़न के साथ भी पुराना सबंध रहा है। क्रिएटिव हेड के रूप में इन्होने कई चैनल में अपना योगदान दिया है। लेकिन हम दर्शकों से विकास गुप्ता का पहला परिचय बिग बॉस 11 में हुआ। बिग बॉस 11 में शिल्पा शिंदे और विकास गुप्ता के बीच की नोंकझोंक और आपसी तनाव कई बार देखने को मिली।

जहाँ विकास ने सोचा था वो तीन हफ्ते भी नहीं टिक पायेंगे वही वो लम्बे समय तक टिके भी और दर्शको द्वारा उन्हें मास्टर माइंड भी कहा जाने लगा। बिग बॉस 11 के बाद भी विकास बिग बॉस के शो में कई बार गेस्ट कंटेस्टेंट बन कर आये और कई बार विवाद से भी जुड़े लेकिन जैसा व्यवहार अर्शी के साथ विकास ने किया वो मेरे लिये भी अश्चार्जनक ही रहा।

जहाँ तक अर्शी खान की बात करें हम तो अर्शी एक मॉडल और अभिनेत्री है और इन्हे भी बिग बॉस 11 में ही पहली बार देखा गया था जहाँ विकास भी थे। इस शो के दौरान भी अर्शी काफ़ी बार विवाद में रही और विकास के साथ भी उनकी बहस होती रही थी।

कहीं ये TRP की रेस में अपनी जगह बनाने के लिए किया गया पब्लिसिटी स्टंट तो नहीं?

जैसा की हम सब जानते है कि विकास गुप्ता इस गेम के पुराने खिलाड़ी रहे है और ऐसे में सिर्फ अर्शी खान की बातों से उन्हें इतना गुस्सा आ गया कि विकास ने एक पल में सारे नियम जानते हुए भी अपना संयम खो दिया और अर्शी को स्विमिंग पूल में धक्का दे दिया?

कहीं ना कहीं मुझे ये TRP के लिये किया गया प्रयास लगता है क्यूंकि हर बार की तरह इस बार बिग बॉस 14 शुरुवात के हफ्तों में TRP की रेस में अपनी जगह नहीं बना पाया और दर्शकों के बीच भी प्रसिद्धि पाने में भी ये शो पिछले सीजनों के मुकाबले पीछे रह गया था। तो क्या इसे मैं सिर्फ एक पब्लिसिटी स्टंट मान के चलूं? क्यूंकि विकास जैसे मंझे हुए खिलाड़ी और बड़े सेलिब्रिटी से ऐसे हिंसक व्यवहार की उम्मीद मैं बिलकुल नहीं रखती।

इस प्रकार का कंटेंट सिर्फ और सिर्फ महिला हिंसा को बढ़ावा देता है

आज जहाँ हम एक ओर महिला सशक्तिकरण की बात करते हैं, महिलाओं के खिलाफ हो रहे हिंसा पे बहस करते हैं, साथ महिला सुरक्षा की मांग भी करते हैं; वहीं दूसरी ओर नेशनल टेलीविज़न और कलर्स चैनल पे जहाँ महिला मुद्दों पर आधारित सीरियल को दिखाया जाता है, वहाँ इस तरह के कंटेंट और हिंसात्मक व्यवहार के प्रदर्शन को किस तरह चैनल द्वारा जस्टिफाई किया जायेगा।

इस तरह के कंटेंट चाहे वो कंटेस्टेंट के द्वारा अपना संयम खो देने पे किया जाये या TRP के लिये करवाया जाये, दोनों ही सूरतो में बहुत ही गलत है क्यूंकि इस प्रकार के कंटेंट को मैं सिर्फ और सिर्फ महिलाओं के विरुद्ध हुई हिंसा ही मानूंगी।

क्या बिग बॉस 14 से विकास गुप्ता को घर से बेघर किया जायेगा?

अब देखना ये होगा कि क्या चैनल द्वारा एक उचित और कठोर कदम उठाया जायेगा? क्या विकास गुप्ता को घर से बेघर किया जायेगा? ये पोस्ट पब्लिश होने वक़्त तक शायद विकास को बेघर कर भी दिये जाये लेकिन एक बड़ा सवाल तो मेरे साथ दर्शकों के मन में भी है की क्या ये एक TRP बढ़ाने का तरीका मात्र था?

मेरे मन में विकास को ले कर भी सवाल है कि क्या विकास को सिर्फ इस्तेमाल करने के लिये ही चैलेंजर्स के रूप में एंट्री दी गई थी? इसी तरह क्या विकास को बेघर करना भी कहीं ना कहीं TRP  बढ़ाने की योजना का हिस्सा तो नहीं?

क्या बिग बॉस की अपने कंटेस्टेंट की सुरक्षा के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं?

मेरे विचार से तो बेघर करने का निर्णय सिर्फ और सिर्फ महिला मुद्दों पे हो रही अपनी किरकिरी से बचने का तरीका मात्र है साथ ही अपनी डूबती इज़्ज़त बचाने का एक प्रयास। मेरे विचार से तो सबसे पहले इस तरह का हिंसक व्यवहार होना ही नहीं चाहिये और अगर किसी प्रकार हो भी गया तो बिग बॉस को तुंरत करवाई करना चाहिये। देखते क्या हैं आखिर ये बिग बॉस? क्या होता अगर अर्शी को ज्यादा चोट आती? क्या बिग बॉस की ये जिम्मेदारी नहीं कि अपने कंटेस्टेंट की सुरक्षा के लिये ज्यादा सचेत रहें और ख़ास कर महिला कंटेस्टेंट की तरफ?

जिस शो ने सफलतापूर्वक 13 सीजन किये हो और जिसके साथ सलमान खान जैसे सुपरस्टार और कलर्स जैसे प्रतिष्ठित चैनल का नाम जुड़ा हो वहाँ बिग बॉस में ऐसा हिंसक व्यवहार होना मेरे साथ साथ दर्शकों को भी सोचने पे मजबूर कर देता है।

नोट : इस पोस्ट के पब्लिश होने तक विकास को बेघर कर दिया गया था अब ये देखना रोचक होगा कि क्या बिग बॉस के विकास गुप्ता को अर्शी खान के साथ गलत व्यवहार करने के लिए बेघर करने के निर्णय को दर्शक सहर्ष स्वीकार करेंगे या फिर विकास के फैन द्वारा इसका विरोध भी होगा। दोनों ही सूरतो में आपकी क्या राय है इस मुद्दे पे मुझे जरूर बताइयेगा।

मूल चित्र : Screenshot from the promo, Big Boss 14, YouTube

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

टिप्पणी

About the Author

174 Posts | 3,864,334 Views
All Categories