कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

प्रेग्नेंट होने के लिए इन 7 बातों का खास ध्यान रखें

प्रेग्नेंट होने के लिए क्या किया जाए, क्या ना किया जाए, अगर आपने भी गर्भ धारण करने का मन बना लिया है तो ये लेख आपकी मदद कर सकता है।

प्रेग्नेंट होने के लिए क्या किया जाए, क्या ना किया जाए, अगर आपने भी गर्भ धारण करने का मन बना लिया है तो ये लेख आपकी मदद कर सकता है।

बच्चे पैदा करने का फैसला करने के बाद, कई महिलाएँ अपने अगले ओव्यूलेशन के दौरान प्रेग्नेंट होने के लिए वह बहुत कुछ करने की कोशिश करती हैं। लेकिन यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि प्रेग्नेंट होने में समय लग सकता है।

एक स्वस्थ, 30 वर्षीय महिला को हर महीने गर्भवती होने का केवल 20 प्रतिशत चांस होते हैं। इसके लिए कुछ महीने या उससे अधिक समय लगना सामान्य है। यदि आप गर्भवती होने के लिए उत्सुक हैं, तो कुछ ऐसे कदम हैं जो आपकी कोशिश को अधिक प्रभावी बना सकते हैं।

प्रेग्नेंट होने के लिए कुछ मूल बातें जाननी ज़रूरी हैं

हर महीने, आपके शरीर में हार्मोनल परिवर्तनों की एक श्रृंखला होती है जो अंडाशय में एक अपरिपक्व अंडे को बढ़ने और परिपक्व होने का कारण बनती है। हर महिला का चक्र अलग होता है। यह प्रक्रिया एक महिला के मासिक धर्म के साथ शुरू होने में औसतन दो सप्ताह लेती है।

एक बार जब अंडा परिपक्व हो जाता है, तो इसे अंडाशय से ओव्यूलेशन के रूप में जाना जाता है। अंडा फिर फैलोपियन ट्यूब से गर्भाशय की ओर जाता है। एक बार रिलीज़ होने के बाद अंडा लगभग 24 घंटे तक ही एक्टिव रहता है।

यदि इस समय सीमा के दौरान शुक्राणु कोशिका द्वारा अंडे को निषेचित कर दें तो निषेचित अंडा नीचे गर्भाशय की ओर चला जाता है और गर्भाशय में समाहित होता है।

ओव्यूलेशन के पहले दिनों में सेक्स करना महत्वपूर्ण है। इस तरह, शुक्राणु कोशिकाएं अंडे के निकलने पर फैलोपियन ट्यूब में होती हैं। इससे निषेचन होने में आसानी होती है। शुक्राणु महिला प्रजनन पथ में चार या पांच दिनों तक जीवित रह सकता है।

सही समय पर प्रेग्नेंट होने के लिए

सही समय पर गर्भवती होने के लिए इस बात को सुनिश्चित करना आवश्यक होता है के आपके मासिक धर्म सुचारू रूप से नियमित हों।

Never miss real stories from India's women.

Register Now

यदि नियमित चक्र है, तो आप अपनी अवधि से लगभग दो सप्ताह पहले ओव्यूलेट करेंगे। इसका मतलब है कि आपकी उम्मीद के मुताबिक ओव्यूलेशन से पहले आपकी बच्चा पैदा करने की पहली सीढ़ी सात दिनों की होगी।

यदि अनियमित चक्र हैं, तो यह भविष्यवाणी करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है कि आप कब ओव्यूलेट करेंगे और कब आप गर्भधारण करने के लिए सक्षम होंगी।

सरवाइकल द्रव्य में परिवर्तन होना

डिम्बग्रंथि कूप के रूप में – अंडाशय में एक छोटा थैली जिसमें परिपक्व अंडा होता है – विकसित होता है, आपका एस्ट्रोजेन स्तर बढ़ जाता है। एस्ट्रोजन में यह वृद्धि आपके ग्रीवा द्रव्य को पतला और फिसलन का कारण बनता है। आप ग्रीवा बलगम में वृद्धि को भी नोटिस कर सकते हैं।

जैसे ही आप इन परिवर्तनों को देखना शुरू करते हैं, तो आप हर दिन या हर दूसरे दिन ओव्यूलेशन तक सेक्स करना शुरू कर सकते हैं। एक बार ओव्यूलेशन होने के बाद, आपका ग्रीवा द्रव्य गाढ़ा और चिपचिपा हो जाएगा।

प्रेग्नेंट होने के लिए इन 7 बातों का ध्यान रखें

डॉक्टरी सलाह लेना न भूलें और नियमित जाँच करवाएं

इससे पहले कि आप आधिकारिक तौर पर बच्चे के लिए कोशिश करना शुरू करें, सबसे पहले आप चेकअप करवा लें। अपने चिकित्सक से प्रीनेटल विटामिन के बारे में पूछें जिनमें फोलिक एसिड होता है, जो कुछ जन्म दोषों जैसे कि स्पाइना बिफिडा से बचाने में मदद करता है।

गर्भावस्था के शुरुआती चरणों के दौरान फोलिक एसिड काम करता है, इसलिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप गर्भवती होने से पहले ही पर्याप्त फोलिक एसिड प्राप्त कर रही हैं। फोलिक एसिड माँ के साथ साथ बच्चे के लिए भी लाभकारी सिद्ध होता है। इसको हम डेली दवा के रूप में ले सकते हैं।

तो निष्कर्ष यह कि, फोलिक एसिड गर्भावस्था का सचमुच एक सुपरहीरो है! असल में, यह उन सभी महिलाओं के लिए महत्त्वपूर्ण है जो गर्भधारण करने के उम्र की हैं। चूँकि यह ऐसा पोषण है जो माँ और बच्चे, दोनों के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है।

अपने माहवारी चक्र के लिए जागरूक रहें

आप अपने मासिक धर्म चक्र के बारे में कितना जानते हैं?  वास्तव में समझने में मदद मिलती है कि आप अभी गर्भ धारण करने के लिए उपयुक्त समय में हैं या नहीं। मासिक धर्म चक्र की नियमितता और उसका सुचारू रूप से सही प्रकार से चलना बहुत आवश्यक है।

यह ओव्यूलेशन के संकेतों से अवगत होने में मदद करता है, जैसे कि आपके ग्रीवा द्रव्य में बदलाव। यह आमतौर पर पतला या वाटरी हो जाता है तो आप गर्भधारण के लिए उपयुक्त होते हैं। कुछ महिलाओं को दर्द का एक तरफा मरोड़ भी महसूस हो सकता है।

ओव्यूलेशन भविष्यवाणी किट आपको गर्भवती होने के सर्वोत्तम समय की भविष्यवाणी करने में भी मदद कर सकते हैं। न केवल वे आपको यह आश्वासन देने में मदद कर सकते हैं कि आप ऑव्यूलेशन कर रहे हैं, यदि आप लगातार संभोग कर रहे हैं, तो यह आपको बताता है कि आपके गर्भवती होने की संभावना बढ़ाने के लिए यह कब करना है, तो यह विकल्प भी कारगर सिद्ध हो सकता है।

यदि आप जन्म नियंत्रण का उपयोग कर रहे हैं तो क्या होगा?  क्या आपको गर्भवती होने की कोशिश करने से पहले थोड़ी देर इंतजार करने की आवश्यकता है?  वास्तव में नहीं, कई डॉक्टर्स बताते हैं कि सालों पहले, पारंपरिक ज्ञान गर्भधारण की कोशिश करने के लिए जन्म नियंत्रण को रोकने के बाद कुछ समय इंतजार करना था, लेकिन यह अब सच नहीं है।

जन्म नियंत्रण को रोकने के बाद आप गर्भ धारण करने की कोशिश शुरू कर सकते हैं। केवल एक ही बात ध्यान रखें कि आप अपनी अवधि प्राप्त करने से पहले गर्भवती हो सकती हैं, इसलिए ऑव्यूलेशन पर नज़र रखना मुश्किल हो सकता है, और आपकी नियमित तारीख का पता लगाना कठिन हो सकता है।

प्रेग्नेंट होने के लिए सेक्स पोजीशन के बारे में चिंता न करें

गर्भवती होने के लिए पोजीशन मायने नहीं रखती। यह कहने का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि मिशनरी पोजीशन सबसे उपयुक्त मानी जाती है। महिलाओं के लिए गर्भधारण करने के लिए कोई भी अच्छी पोजीशन है।

संभोग के तुरंत बाद बिस्तर पर रहें

आपने शायद यह सुना है – गर्भवती होने की संभावना बढ़ाने के लिए सेक्स करने के बाद हवा में अपने पैरों के साथ बिस्तर पर ऊपर की ओर पैर करने से वीर्य सही स्थान पर पहुँच जाता है और अंडाणु निषेचित होने के लिए तैयार हो जाते हैं। यह बात पूरी तरह से सच नहीं है। अक्सर सलाह यह दी जाती है की संभोग के बाद 10 से 15 मिनट के लिए बिस्तर पर लेट जाओ, लेकिन आपको अपने पैरों को हवा में रखने की ज़रूरत नहीं है। आपको लेटने की सलाह इसलिए दी जाती है क्योंकि शुक्राणुओं को ग्रीवा के रास्ते गर्भाशय में जाने का रास्ता मिलता है।

ओवुलेशन के दौरान ज़्यादा सेक्स करने का मिथ तोड़ दें

ऑव्यूलेशन के दौरान भी हर दिन सेक्स करने से आपके गर्भवती होने की संभावना नहीं बढ़ेगी। सामान्य तौर पर, ऑव्यूलेशन के समय के आसपास हर दूसरी रात आपके गर्भवती होने की संभावना को बढ़ाने में मदद करती है।  शुक्राणु आपके शरीर के अंदर 5 दिनों तक रह सकते हैं।  सबसे अच्छा सुझाव है कि आप नियमित रूप से सेक्स करें – जब आप ऑव्यूलेशन कर रहे हों या नहीं भी कर रहे हों। सेक्स नियमित तौर पर ही करें।

शुक्राणु के बारे में बात करें तो

तंग कपड़े पहनने से पुरुषों के शुक्राणुओं की संख्या पर नकरात्मक प्रभाव पड़ सकता है। आपके पति अगर ज़रूरत से ज़्यादा सेल फ़ोन इस्तेमाल कर रहे हैं और नीचे पेंट की पॉकेट में अपना फ़ोन अक्सर रखते हैं या अंडकोष के करीब रखते हैं उनमें शुक्राणु की गुणवत्ता खराब होती है।

मानव प्रजनन में ऑनलाइन प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, जो पुरुष बहुत सारे सोया खाद्य पदार्थ खाते हैं, उनमें सोया खाद्य पदार्थ नहीं खाने वाले पुरुषों की तुलना में शुक्राणु एकाग्रता कम हो सकती है।

स्वस्थ और सकारात्मक जीवन जिएं

व्यायाम करना एक स्वस्थ आदत है, खासकर यह आपके वजन को मेंटेन करता है आपको डेली व्ययाम करना चाहिए। मगर बहुत अधिक व्यायाम आपको ओव्यूलेट नहीं करने का कारण बन सकता है इसलिए इसको भी नियमित रखें। वैसे भी कहा गया है कि किसी भी चीज़ की अति अच्छी नहीं होती।

नियमित व्यायाम के स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के दौरान गर्भवती होने की संभावना को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका मध्यम व्यायाम करना है – सोचें कि तेज चलना – प्रत्येक सप्ताह ढाई घंटे और (कम से कम 30 मिनट, सप्ताह में 5 दिन)।

गर्भवती होने की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए धूम्रपान करना बंद कर दें। धूम्रपान के अन्य सभी नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभावों के अलावा, यह बुरी आदत भी प्रजनन क्षमता को कम करता है। यह एस्ट्रोजन के स्तर और ओव्यूलेशन को प्रभावित करता है।

अगर आपका सपना है कि आप माँ बनें और बेबी बम्प देखें, तो संयम रखें और किसी भी प्रकार का स्ट्रेस ना लें। तनाव रहित जीवन जियें, अगर आप अभी तक माँ नहीं बन पाई हैं, तो इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं कि आप भविष्य में कभी माँ नहीं बन सकतीं।

उपरोक्त लेख रिसर्च करने के बाद और व्यक्तिगत तौर पर महिलाओं से साक्षात्कार के बाद, आप तक मैंने पहुँचाया है। आशा करता हूँ कि आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगा।

जो माँ हैं उनके लिए भी और जो अभी माँ बनने का सपना देख रहीं हैं, उनके लिए शुभकामनाएं।

मूल चित्र : Canva 

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

टिप्पणी

About the Author

96 Posts | 1,384,000 Views
All Categories