कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

लॉकडाउन के समय क्या है ‘एसेंशियल’ और क्या नहीं? यहाँ हैं आपके सवालों के जवाब

लॉकडाउन के समय क्या खरीदें और क्या नहीं? जब बाहर निकलें तो किन चीज़ो का रखें ख्याल? हम लाएं हैं यहाँ आपके इन्हीं सवालों के जवाब!

लॉकडाउन के समय क्या खरीदें और क्या नहीं? जब बाहर निकलें तो किन चीज़ो का रखें ख्याल? हम लाएं हैं यहाँ आपके इन्हीं सवालों के जवाब!

वर्तमान में कोरोना वायरस दुनिया पर एक काफी बड़ा प्रकोप है। अब तक यह वायरस दुनिया भर में 20,000 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। इस वायरस का कोई इलाज नहीं हैं इसी लिए घर पर रहना और सोशल-डिस्टन्सिंग का पालन करना ही इसके प्रसार को रोकने का एकमात्र तरीका है। भारत में अब तक तकरीबन 1200 सकारात्मक मामले हैं तथा 30 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी हैं । इस वायरस को रोकने के लिए, भारत सरकार ने 15 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की है।

अब इसके वजह से 15 अप्रैल तक सब लोग घर पर ही रहेंगे। घर के केवल एक या दो सदस्यों को ही एक समय पर सुपरमार्केट की यात्रा करने की अनुमति दी गई हैं । अनुमति दिए जाने वाले लोगों की संख्या, राज्य दर राज्य बदलती है। लेकिन यह दो से अधिक नहीं हो सकते।

परन्तु हम देख रहे हैं की हमारे आस-पास संक्रमित लोगों की संख्या बस बढ़ती ही जा रही है। तो आप क्या करेंगे? बहुत सारे किराने का सामान के साथ अपने घर को भर लेंगे और कई लोगों को उनसे वंचित करेंगे ताकि आपको बार-बार बाहर ना निकलना पड़े? नहीं! क्यूंकि पैनिक बाइंग पूरी तरह से गलत है!

इसके बजाय, कुछ सावधानियों को ध्यान में रखते हुए, आवश्यक वस्तुओं की एक सूची बनाएं और उन्हें समय पर खरीदें। तो हम यहां आपकी सुविधा के लिए एक औसत मध्यमवर्गीय परिवार और इस लॉकडाउन अवधि के दौरान तथा अकेले रहने वाले एक व्यक्ति द्वारा आवश्यक वस्तुओं की एक सूची लाए हैं। लेकिन इससे पहले कि हम लॉकडाउन की आवश्यक सूचि की बात करें, लॉकडाउन आखिर हैं क्या ये जानना बहुत ज़रूरी हैं।

लॉकडाउन में क्या करें और क्या ना करें?

  • इस समय निजी बसों, टैक्सियों, ऑटो-रिक्शा और ई-रिक्शा, मेट्रो सहित सार्वजनिक परिवहन द्वारा यात्रा की अनुमति नहीं होगी। ऑनलाइन कैब्स जैसे ओला और उबर को देश के कुछ हिस्सों में अनुमति दी गई है।
  • निजी कारों का इस्तेमाल करने की अनुमति है लेकिन केवल आवश्यक सेवाओं के लिए। आपको सड़कों पर रोका जाएगा और निकलने का कारण पूछा जाएगा। और अगर वह ये इमरजेंसी कारण हैं तभी आपको जाने दिया जाएगा।
  • सारी राज्य सरकारें तथा केंद्र सरकार यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश कर रही हैं कि सभी आवश्यक दवाइयों, खाद्य और चिकित्सा उपकरणों का ई-कॉमर्स सभी के लिए खुला रहे और सुलभ हो।
  • मिल्क प्लांट, जनरल प्रोविजन स्टोर और रेस्त्रां के खाने की होम डिलेवरी / डिलीवरी भी खुलेगी लेकिन यह भी अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग होगी। जिन शहरों में ये खुले नहीं हैं, वहां सरकार इस पर ध्यान दे रही है और अपनी घोषणाएं करेगी। इसलिए अपनी नज़र स्थानीय और क्षेत्रीय ख़बरों पर रखें।
  • आवश्यक सेवाएं और सुपरमार्केट खुले हैं (हालांकि हर राज्य के ओपनिंग समय अलग-अलग हैं)
  • प्रत्येक राज्य के अपने नियम हैं परंन्तु हर जगह,आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए दो से अधिक लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है।

आखिर क्या हैं आवश्यक चीज़ें?

यहां एक बात का ध्यान रखें कि स्मार्ट तरीके से खरीदना बहुत जरूरी है। संसाधनों के असमान वितरण को रोकने के लिए ये बहुत ज़रूरी हैं । जब आवश्यक वस्तुओं की बात आती है, तो उन्हें तीन सेटों में विभाजित किया जा सकता है – खाने योग्य, दवा और अन्य।

यहां आपको स्मार्ट और बेहतर खरीदारी करने में मदद करने के लिए आवश्यक सूची दी गई है।

खाने का सामान

एक औसत परिवार के लिए- आलू, प्याज और टमाटर जैसी मूल सब्जियों के साथ तेल, चावल, आटा, दालें, नमक और कुछ मूल मसाले एसेंटिअल आइटम्स हैं।

Never miss real stories from India's women.

Register Now

ये आसानी से उपयोग किए जा सकते हैं और कई तरीकों से तैयार किए जाते हैं और हर परिवार की ज़रूरतें हैं। इसके अलावा इम्युनिटी बढ़ाने वाले मसाले जैसे हल्दी, हरी सब्जियों और सिट्रिक फलों को भी शामिल किया जा सकता है अगर बजट और उपलब्धता इसकी अनुमति देती है। ये कुछ ऐसे आइटम हैं जिनकी आपको आवश्यकता है, भले ही आप अपने परिवार के साथ रहें या अपने दम पर।

हालाँकि, यदि आप अकेले रहते हैं और खाना पकाने के बारे में बहुत कुछ नहीं जानते हैं, तो आपके लिए कुछ आवश्यक चीजें थोड़ी अलग हैं। मैगी और अन्य समान नूडल्स या यहां तक ​​कि कप नूडल्स भी आपके लिए एक बुनियादी आवश्यकता है। कुछ दूध और अनाज (कॉर्नफ्लेक्स) को स्टोर करने से आप जरूरत के समय बच जाएंगे। हैश-ब्राउन या टिक्की, आदि जैसे आसानी-से-कुक किए जाने वाले आइटम, पैक किए गए स्नैक्स जिन्हें आप काम करते समय खा सकते हैं, एक आवश्यकता है।

अकेले रहने वाले किसी व्यक्ति की टिप अरहर की दाल ही खरीदें। कोई अन्य दाल पकाने के लिए उतनी आसान नहीं है जितना कि यह है। आपको बस इतना करना है कि इसे थोड़े से पानी में अरहर की दाल भिगो दें और इसे 15-20 मिनट तक पकाएं। यह दाल एक न्यूनतम प्रयास और अधिकतम घर-भोजन की संतुष्टि देती हैं।

फार्मास्यूटिकल्स – बुनियादी दवाइयाँ

इस समय बुनियादी दवाइयाँ होना बहुत ज़रूरी है, ताकि आपको कम से कम स्वास्थ्य समस्याओं के मामले में डॉक्टरों की ओर भागना ना पड़े। प्रत्येक घर को सबसे बुनियादी फ्लू और दर्द की दवा की आवश्यकता होती है। इनमें पेरासिटामोल, खांसी की बूंदें, एंटी-एलर्जी, नाक की बूंदें, पाचन की गोलियाँ, दर्द निवारक स्प्रे और पट्टियाँ, मलहम और एंटीबायोटिक्स शामिल हैं। जो दवाएं बिना प्रिस्क्रिप्शन के इस्तेमाल की जा सकती हैं उन्हें अपने पास इस समय ज़रूर रखें।

इसके अलावा यदि आप या आपके परिवार में किसी को भी मेडिकल हिस्ट्री है और उन्हें दवाइयां निर्धारित की गई हैं तो विशेष स्वास्थ्य समस्याओं के लिए दवाओं का स्टॉक करना ज़रूरी हैं । इसके बारें में  अपने डॉक्टर से पहले ही सलाह लें। उनसे बुनियादी सावधानियों के बारे में पूछें अगर आपको पहले से ही कोई बीमारी हैं।

इस समय सैनिटाइजर और मास्क भी बहुत महत्वपूर्ण उपकरण हैं। लेकिन कोशिश करें कि सैनिटाइजर को स्टॉक न करें क्योंकि आपूर्ति कम है और मांग अधिक है। स्टॉकिंग की वजह से जिन लोगों को इसकी आवश्यकता है वे इसे प्राप्त नहीं कर सकते हैं। साबुन भी वही काम करता है जो सैनिटाइजर करते हैं इसलिए साबुन या हैंड-वॉश का इस्तेमाल प्रमुखता से करें।

इसके अलावा, आप एलोवेरा जेल का उपयोग करके अपना सैनिटाइजर भी बना सकते हैं।

अन्य

अब अन्य सूची दो चीज़ो पर निर्भर करती है।

सबसे पहले, इस सूची में अधिकांश सामान कुछ ऐसा है जो घरों में आम तौर पर होता है (जो लगभग स्टॉक में ही खरीदा जाता हैं)।

दूसरा, इस सूची में एक व्यक्ति के लिए जो आवश्यक हो सकता है, वह दूसरे के लिए भी आवश्यक वस्तु हो ये ज़रूरी नहीं हैं।

इस सूची में व्यक्तिगत और घरेलू स्वच्छता के लिए चीजें शामिल हैं। इसमें साबुन, डिटर्जेंट, डिश वॉश बार, शैम्पू, मॉइस्चराइज़र, तेल, बाथरूम क्लीनर, मच्छर भगाने वाली कॉइल, सेनेटरी पैड्स टूथपेस्ट, टूथब्रश, कॉफी, चाय, जूस, और एंटीसेप्टिक जेल जैसी बुनियादी चीजें हैं।

इसके अलावा एलपीजी सिलेंडर सभी को मुहैया कराया जा रहा है, इसलिए पहले से बुकिंग कर लेना भी एक प्राथमिकता होनी चाहिए। अकेले रहने वाले लोगों के लिए, पानी भी प्राथमिकता है। इसलिए पानी के कैन कि पूर्व बुकिंग करना भी ध्यान में रखना चाहिए।

इसके अलावा अगर आपके पास एक पालतू जानवर हैं तो उसके लिए भोजन खरीदना भी महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, पूर्व ही अपने पशु चिकित्सक के साथ बात करें और उन वस्तुओं के लिए पूछें जो आपको लॉकडाउन के दौरान अपने पालतू जानवरों के लिए आवश्यक हो सकती हैं।

बाहर ज़रूरी जाना है? रखें इन चीज़ों का ख्याल

अब सूची को ध्यान में रखते हुए सामान लाना भी। उसके साथ साथ सावधानी बरतना भी ज़रूरी हैं. तो यहाँ एक सूची है जिसका आपको पालन करना जब आप आवश्यक वस्तुएं खरीदने के लिए बाहर निकलते हैं।

जब आप बाहर जाएँतो

  • हमेशा एक सैनिटाइज़र और एक मास्क रखें (यदि आपके पास एक मास्क नहीं है तो दुपट्टे से अपना मुंह ढकें)
  • कम से कम 20 सेकंड के लिए हर 20 मिनट में अपने हाथ धोएं।
  • कतारों में 1 मीटर की दूरी बनाए रखें।
  • बटन, ग्रिल, दीवारों जैसी चीज़े अपने रास्ते पर स्पर्श ना  करें और यदि आप करते हैं तो तुरंत अपने हाथों को सैनिटाइजर से साफ करें।
  • किसी से भी हाथ ना मिलाएं, हो सके तो लेटेक्स दस्ताने पहनने की कोशिश करें। और केवल एक बार इस्तेमाल होने वाले दस्तानों को इस्तेमाल कर के तुरंत फेक दे।
  • स्टोर से आइटम लेने से पहले और बाद में अपना हाथ सैनिटाइज़र से साफ करें।
  • यदि दुकानदार खुले पैसे देता है, तो इसे लेने के बाद अपने हाथों को साफ करें। आपके घर वापस आने के बाद किराने की थैली एक कोने में छोड़ दें। कुछ भी स्पर्श न करें और वॉशरूम जाएं। अपने कपड़ों और मास्क को एंटीसेप्टिक लिक्विड से धोएं। याद रखें कि जैसे ही आप वापस आते हैं अपने कपड़ों को अलग रखें क्योंकि कपड़े कोरोना वायरस के लिए एक वाहक भी हो सकते हैं।
  • यदि संभव हो तो किराने की थैली को अच्छे से सैनिटाइज करें। यदि नहीं, तो बैग से चीजें बाहर निकालने के बाद अपने हाथों को साफ करें। याद रखें कि बिना किसी चीज को ठीक से धोए उपयोग ना करें भले ही वह पैकेज में क्यों ना हो।
  • यदि आप पानी के डिब्बे की डिलीवरी ले रहे हैं, तो आइटम को छूने से पहले अपना हाथ साफ करना न भूलें। इसके अलावा इसे घर में रखने से पहले इसे बाहर अच्छे से धो ले यदि संभव हो तो कम से कम पानी और एंटीसेप्टिक लिक्विड के साथ।

इस समय ध्यान रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हर भोजन को सबसे अधिक ख़ास और स्वादिष्ट बनाना ज़रूरी नहीं हैं। अपने बेसिक्स को फैंसी बनाने की कोशिश करें।

बस याद रखें कि आपको अपनी स्थानीय किराने की दुकान पर मौजूद पूरे स्टॉक को खरीदने की कोई आवश्यकता नहीं है। किराने की दुकानें लंबे समय तक खुली रहेंगी इसलिए घबराने की ज़रूरत नहीं हैं। इस समय दूसरों की ज़रूरतों पर विचार करना भी ज़रूरी है

मूल चित्र : YouTube

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

टिप्पणी

About the Author

Nishtha Pandey

I read, I write, I dream and search for the silver lining in my life. Being a student of mass communication with literature and political science I love writing about things that bother me. Follow read more...

18 Posts | 63,881 Views
All Categories