कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

हिमालय : एक जगता हुआ पहरेदार और एक प्राकृतिक दोस्त

Posted: अप्रैल 23, 2020

हिमालय जिसको हम पर्वतों का राजा मानते हैं, पाँच देशों की रखवाली के लिए खड़ा यह न कभी थकता है और ना हार मानता है। 

दुश्मनों की ताक में ,

पुरातनकाल से जाग रही है इसकी आँखें ,

देश की सुरक्षा में कोई विपदा ना आए ,

इसीलिए हो खड़ा पहरेदार सा ,

हर वादा कर रहा है अदा यह।

आँधियों को बाँहों में लिए ,

तूफानों से रोज है खेलता ,

मौसम का रुख भी यह बदल दे ,

बादलों को भी चीर पानी में बदल दे।

अंशुमन की पहली किरण करे नमन इसका ,

सांझ भी ढलने से पहले करे मनन इसका ,

गुनवाण है ये गुणों से भरा ,

इसीलिए शीश झुकाए करता अंबर भी गुनगाण इसका।

देश की है शान यह , 

आन यह पहचान यह ,

पर्वतों का सरताज यह ,

अधिराज यह अभिराज यह ,

पहने हुए अंबर का ताज यह ,

धरती पर खड़ा अचल अडिग अभिचल हिमालय यह।

देखो ना !

बिन बाँधे ,

खींचा चला आऊँ इस ओर ,

कैसी है यह डोर ,

क्या रोचक नज़ारा है ,

इन वादियों ने आज फिर पुकारा है।

यहाँ की हवा में एक सोंधी सी महक है ,

दिल जाए तेजी से धड़क ऐसी इस की एक झलक है ,

फ़लक पर जब सजता इसकी चोटी पर मयंक है ,

चमक उठे ये दो नयन है।

इसकी सुंदरता का बखान ,

शब्दों में ना पिरोया जा सके ,

ना कर सके इसकी खूबसूरती को कोई भी बयां ,

उदय और अस्त ,

दोनों मदमस्त यहाँ।

एक अनोखी सी शांति है इन फ़िज़ाओं में ,

जो दिल को है छू जाती ,

अंतर्मन से जा मिलाती ,

डर है खो ना दूँ खुद को यहाँ ,

पर फिर लगता यक़ीन सा है ,

खोकर खुद को भी पा लूँगी जन्नत का नूर यहाँ।

चल शिखर पर कर एक चढ़ान ,

कर दे तू भी यह ऐलान ,

गूँज जाए तेरी पहचान।

पीछे रह जाएँ कदमों के निशान।

पीछे रह जाएँ कदमों के निशान।

मूल चित्र : Pexels

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Founder of 'Soch aur Saaj' | An awarded Poet | A featured Podcaster | Author of 'Be Wild

और जाने

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020