कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

समीरा रेड्डी कहती हैं, खुलकर अपने डर पर बात करो, मज़ाक उड़ाने वालों को मुंह तोड़ जवाब दो!

Posted: November 4, 2019

एक्ट्रेस समीरा रेड्डी कहती हैं, “एक टीनएज होने के बावजूद भी मुझ पर अच्छा दिखने का बहुत प्रेशर था।” अपनी इंसिक्योरिटी पर समीरा ने बड़ा ही बेबाक होकर लिखा है।

एक एक्ट्रेस हैं समीरा रेड्डी, नाम से शायद आपको याद ना आए लेकिन उन्होंने बॉलीवुड में एक टाइम में काफी फिल्में की हैं और डांस तो कमाल का करती थीं। कई सालों पहले अपने फिल्मी करियर से अलविदा लेकर समीरा अपने परिवार और सोशल वर्क में मशगूल हैं। अभी कुछ दिन पहले उन्होंने अपनी टीनएज की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है जिसके बाद उन्हें लोगों की ख़ूब वाहवाही मिल रही है। अपनी इंसिक्योरिटी पर समीरा ने बड़ा ही बेबाक होकर लिखा है।

“मज़ाक एक तरफ़, मैंने भी अपने उस दौर में बहुत स्ट्रगल किया है जब लोग मुझे मेरे रंग-रूप और वज़न की वजह से जज करते थे। एक टीनएज होने के बावजूद भी मुझ पर अच्छा दिखने और महसूस करने का बहुत प्रेशर था। आज भी दो बच्चों की माँ बनने के बाद और एक ऐसा पति जो मुझे मैं जैसी हूं वैसा ही पसंद करते हैं। फिर भी कई बार मैं ख़ुद को ऐसी परिस्थितियों में पाती हूं जब मेरे लिए अपने शरीर और अपने बारे में अच्छा महसूस कर पाना मुश्किल हो जाता है।”

समीरा का ये पोस्ट इंस्टाग्राम पर हैं जिसके लिए लोगों ने उन्हें ख़ूब वाहवाही दी है और समीरा ने सभी का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया है।

किसी का मज़ाक उड़ाना और उन्हें उनकी सूरत के लिए चिढ़ाना किसी का भी हक नहीं है। भगवान ने सभी को अपने अंदाज़ में ख़ूबसूरत और एक-दूसरे से अलग बनाया है। हमें ख़ुद को भी चाहिए कि हम अपने शरीर, रंग, रूप को सराहें। दूसरों की फ़िज़ूल बातों पर ध्यान ना दें क्योंकि मज़ाक उड़ाने वाले अंदर से कितने घिनौने होंगे। उन्हें तो ख़ुद पर शर्म आनी चाहिए। अच्छा दिखना बुरी बात नहीं है लेकिन किसी दौड़ में मत भागिए। आपको किसी के जैसा नहीं बनना है बस अपने जैसा रहना है।

मूल चित्र : Google

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

WORKING FOR THE LAST 5 YEARS IN MEDIA....AS A WOMAN I FEEL WE STILL

और जाने

Online Safety For Women - इंटरनेट पर सुरक्षा का अधिकार (in Hindi)

टिप्पणी

अपने विचारों को साझा करें, विनम्रता से (व्यक्तिगत हमला न करें! वेबसाइट के नीची भाग में पूरी टिप्पणी नीति पढ़ें |)

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?