कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

आज फिर से बचपन बहुत याद आया

Posted: नवम्बर 27, 2019

कभी जब आपने ख़ुद को तन्हा पाया, क्या आपको भी बचपन तब याद आया, बचपन के झगड़ों में बीता, भाई बहन का साथ याद आया, क्या आपको भी बचपन फिर याद आया!

जब भी ख़ुद को तन्हा पाया
मुझको बचपन तब याद आया

पाकर ख़ुद को बोझिल चोटिल
पापा का साया याद आया
प्यारा बचपन फिर याद आया

बचपन के झगड़ों में बीता
भाई बहन का साथ याद आया
मुझको बचपन फिर याद आया

माँ की चुग़ली पापा से करता
नादान भटकता ख़ुद को पाया
मुझको बचपन फिर याद आया

ढलता जब जब सूरज पाया
मम्मी का थप्पड़ याद आया
ऐसा बचपन फिर याद आया

मम्मी के थप्पड़ से बचाता
बड़ी माँ का प्यार याद आया
आज लौटकर बचपन फिर याद आया

क़िस्से और कहानी कहता
बाबा का दुलार याद लाया
आज वो बचपन बहुत याद आया

कुछ शब्द बचपन के नाम…

मूल चित्र : Canva

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Dreamer , creative , luv colours of life , Teacher , love adventure, singer , Dancer , P☺️

और जाने

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020