कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे

Posted: May 7, 2019

इरादे मुक़म्मल करने को अक्सर रूह के कुछ हिस्से सिसकते रहे, ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे।

ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे,
अजीब इत्तफ़ाक़ है,
अजीब इत्तफ़ाक़ कि सुकून की तलाश में मफरूर से फिरते रहे।
ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे।
सरकश ख्यालों के पीछे-पीछे चल दिए,
ख़्वाबों को हक़ीकत में उतारने को मचलते रहे।
ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे।
मुश्किलें मशक्क़तें तो सैकड़ों मिलीं,
फ़िर भी मंज़िलों की आस में रास्ते तरसते रहे।
ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे।
जुनून के काफ़िले थे यूँ कि
इरादे मुक़म्मल करने को अक्सर रूह के कुछ हिस्से सिसकते रहे।
ठहराव की तलाश में हम भटकते रहे।

Writer. Humanitarian. Traveler. Thinker

और जाने

Online Safety For Women - इंटरनेट पर सुरक्षा का अधिकार (in Hindi)

टिप्पणी

अपने विचारों को साझा करें, विनम्रता से (व्यक्तिगत हमला न करें! वेबसाइट के नीची भाग में पूरी टिप्पणी नीति पढ़ें |)

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020