कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

नारी ऊर्जा-तेरे में है हौंसला, चल उठ, अपनी पहचान बना

Posted: फ़रवरी 20, 2019

नारी तू उठ-चल उठ, अपनी पहचान बना, डर मत, कुछ कर, तू पढ़, आगे बढ़, मत पीछे हट, तू बोलेगी, मुँह खोलेगी, तभी ज़माना बदलेगी।

नारी तू उठ, डर मत, कुछ कर,
तू पढ़, आगे बढ़, मत पीछे हट।

तू बोलेगी, मुँह खोलेगी,
तभी ज़माना बदलेगी।

लज्जा है तेरा गहना,
पढ़ाई को अब अस्त्र बना।

तू ही अबला, तू ही सबला,
अब तू बन कल्पना चावला।

तू ही दुर्गा, तू ही लक्ष्मी, तू ही सीता,
दुष्टों के संहार का है, तेरे में हौंसला।

तोड़ कर ज़ंजीरों की बेड़ी,
तू बन किरन बेदी।

तू देश की आन-बान-शान है,
तू ही ऊषा, इंदिरा और प्रतिभा है।

मत हार हौसला, मत घबरा,
तू बन मदर टरेसा।

तू ही सावित्री, आशा, नीता, लता,
सब कुछ है तुझको पता।

तू ही सानिया, मैरी, नेहा, दीपिका,
चल उठ, अपनी पहचान बना।

देश का नाम रोशन कर,
तू ही ऐश, लारा, सुष्मिता।

नारी तू उठ, डर मत, कुछ कर,
तू पढ़, आगे बढ़, मत पीछे हट।

 

घर के बाहर काम करने से क्या मैं बुरी माँ बन जाऊँगी?

टिप्पणी

Women In Corporate Allies 2020

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

Women In Corporate Allies 2020