कोरोना वायरस के प्रकोप में, हम औरतें कैसे, इस मुश्किल का सामना करते हुए भी, एक दूसरे का समर्थन कर सकती हैं?  जानने के लिए चेक करें हमारी स्पेशल फीड!

5 टिप्स उस करियर ब्रेक के बाद दोबारा जॉब शुरू करने के लिए

Posted: August 2, 2018

करियर ब्रेक के बाद दोबारा जॉब शुरू करने की युक्तियों क्यूंकि अक्सर कामकाजी महिलाओं को अपने बच्चो की देखभाल के लिए करियर से ब्रेक लेना पड़ जाता है 

अनुवाद: निकिता सेंगर 

भले ही आपका ब्रेक मातृत्व के कारण था, बिना कामकाजी वीजा के विदेश में रहने के कारण या अन्य किसी और कारणवश  – हम सभी जानते है कि भारत में कई बार महिलाओ का करियर अंतराल आने से अर्थात है करियर ख़तम हो जाना ।

हालाँकि हमने नियोक्तायता में सुधार और ब्रेक के मुद्दे को पहले भी संबोधित किया है, इस लेख में, हमारे पास आपके लिए विशेषज्ञों और करियर सलाहकारों से करियर ब्रेक के बाद दोबारा जॉब शुरू करने के तरीके के बारे में बहुत विशिष्ट सुझाव हैं, भारत के साथ साथ अमेरिका से भी , जहां करियर ब्रेक के बाद के परामर्श कुछ समय से प्रचलन में है ।

1. उद्देश्यों का एक बयान का प्रयोग करें

साईरी चहल, सह-संस्थापक, Sheroes, जो महिलाओं के लिए काम के लचीले अवसर बनाने की दिशा में काम करते हैं, कहती हैं, “यह माना जाता है कि जो व्यक्ति काम के दौरान अंतराल लेते है  उनमे प्रतिबद्धता की कमी है। क्या आपका रेज़्यूम उस धारणा को तोड़ता है?” ऐसा करने का एक तरीका है अपने करियर के उद्देश्यों का स्पष्ट विवरण देना । उदाहरण के लिए:

6 साल के अनुभव के साथ संचार विशेषज्ञ खुदरा उद्योग में बढ़ते व्यवसायों के साथ काम करने की तलाश में – जहां इन-स्टोर संचार और सीआरएम कार्यक्रमों के साथ मेरा अनुभव, गतिशील वातावरण में काम करने का लाभ ग्राहक वफादारी और बिक्री में महत्वपूर्ण अंतर डाल सकता है।

यह नियोक्ता को बताता है कि आप सिर्फ नौकरी की तलाश नहीं कर रहे हैं, बल्कि  दिमाग में लंबी अवधि की योजना है। मॉली लैसौचर, मॉम कॉर्प्स के मालिक, लॉस एंजिल्स, एक ऐसा व्यवसाय जो ( स्थिति के अनुरूप ) कर्मचारियों को नियोक्ता से जोड़ता है, कहता है, “सर्वोत्तम उद्देश्य-बयान कुछ लाइन लम्बा व्याख्यान देते हैं और आपकी विशेषज्ञता, उन मूल्यों का जो आपको कंपनी से जोड़ते हैं, और आपका आदर्श काम का संवाद करते है”

2. क्या महिलाओ को करियर अंतराल  को छुपाना चाहिए ?

कुछ सलाहकार आपके रोजगार इतिहास में अंतराल को छिपाने के ‘रचनात्मक’ तरीकों की सलाह देते हैं – उदाहरण के लिए, महीने और रोजगार के वर्ष की सूची नहीं देना , और केवल उपलब्धियों का जिक्र करना । हालाँकि यह नियोक्ता को एक मानक रिज्यूमे  से अलग होने के कारण संदिग्ध करते है

माइकल एंड सुसान डेल फाउंडेशन के मानव संसाधक , टाइकन.आर.ऑसबोर्न, भारत सहित कई देशों में गैर सरकारी संगठनों का समर्थन करते हैं, कहते हैं, “मैं रचनात्मकता के कुछ प्रयासों की तुलना में अंतराल के साथ एक अच्छी तरह लिखित रिज्यूमे को पसंद करूँगा । अंतराल को समझने के लिए कवर लेटर का सदुपयोग करे और बताये कि क्यों आप उस पद के लिए उच्च हैं। “

साईं चहल एक उदाहरण देते हुए समझते हैं कि किस प्रकार आप अपने पुराने काम से भिन्न पद के लिए स्वयं को प्रस्तावित करे । वह कहती है, “यदि आप सॉफ्टवेयर विकास में थे और अब एक परीक्षक की नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं, तो बताये कि किस प्रकार डेवलपर के रूप में आपका  इनपुट एक मजबूत आधार प्रदान करता है ।”

3. करियर ब्रेक के दौरान LinkedIn प्रोफाइल

इस तरह संभावित नियोक्ता को यह आश्वस्ति होगी कि आप अपने ब्रेक के बावजूद उद्योग से अच्छी तरह से जुड़े रही, क्योंकि नेटवर्किंग पेशेवरों स्वयं को  उद्योग ज्ञान और सम्बंधित जानकारी से अपडेट रखते है। रॉय कोहेन, करियर कोच और लेखक, द वॉल स्ट्रीट प्रोफेशनल की सर्वाइवल गाइड कहते हैं, “यह दिखाने के लिए कि आप पेशेवर रूप से जुड़े है , अपनी लिंक्डइन प्रोफाइल और अन्य करियर से संबंधित सोशल नेटवर्किंग साइटों के लिंक शामिल करें। यह सुनिश्चित करे कि आप  तकनीक का उपयोग सहज हैं और सक्रिय रूप से करते हैं। “

4. करियर ब्रेक के बाद दोबारा जॉब शुरू करते हुए रेज़्यूमे में मेट्रिक्स शामिल करें

देखा गया है कि कई रिज्यूमे अस्पष्ट होते है और ‘उपलब्धियों’ और ‘ताकत’ के बारे में बात नहीं करते हैं। कैरियर ब्रेक से लौटने वाली एक महिला के मामले में यह अधिक सामने आता  है, जो पिछले 2-3 वर्षों में वास्तव में औपचारिक कार्य उपलब्धियां पाने में असमर्थ रही है । कनेक्टिकट-आधारित बिजनेस कोच और कार्यकारी भर्तीकर्ता बेथ कार्टर का कहना है, “मेरी एक टिप आपके रेज़्यूमे में मेट्रिक्स को शामिल करना होगा, भले ही यह एक स्वयंसेवी पद  के लिए हो।” उदाहरण के लिए, बच्चों के स्कूल के लिए किए गए फंड-राइजिंग गतिविधियां प्रस्तुत की जा सकती हैं जैसे –

12 सप्ताह की समय सीमा के भीतर, XYZ  स्कूल के लिए Rs 1,00,000 मूल्य के धन और फंडिंग का सुनियोजन किया,   पेरेंट-टीचर एसोसिएशन के साथ समन्वय करते हुए 4000 से अधिक छात्रों की मदद  

यदि आपके पास अंतराल सम्बन्धी साझा करने के लिए कोई मैट्रिक्स  नहीं है, तो कम से कम अपनी पिछली नौकरियों से कुछ मीट्रिक शामिल करें।

5. काम करने वाली माँ कैसे प्रासंगिक रह सकती है

अंत में, अपने ब्रेक  के दौरान किये गए काम को महज़ शौक या अवकाश गतिविधि की तरह प्रस्तुत न करें। यदि आप कोई स्वयंसेवक काम कर रहे हैं, तो ‘गैर-लाभकारी’ शीर्षक के तहत वस्तुओं को वर्गीकृत करें और अपने स्वयंसेवी योगदान की प्रकृति का विवरण दें।

इसे अपने समय को  गंभीर उपयोग के रूप में प्रस्तुत करें, जो नियोक्ता को  उसी अनुसार प्रतिक्रिया करने की सम्भावना देगा ।

मूल चित्र : Canva

पसंद आया यह लेख?

पाइये विमेन्सवेब के सारे दिलचस्प हिंदी लेख अपने ईमेल इनबॉक्स मे!

विमेन्सवेब एक खुला मंच है, जो विविध विचारों को प्रकाशित करता है। इस लेख में प्रकट किये गए विचार लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं जो ज़रुरी नहीं की इस मंच की सोच को प्रतिबिम्बित करते हो।यदि आपके संपूरक या भिन्न विचार हों  तो आप भी विमेन्स वेब के लिए लिख सकते हैं।

Founder & Chief Editor of Women's Web, Aparna believes in the power of ideas

और जाने

Online Safety For Women - इंटरनेट पर सुरक्षा का अधिकार (in Hindi)

टिप्पणी

अपने विचारों को साझा करें, विनम्रता से (व्यक्तिगत हमला न करें! वेबसाइट के नीची भाग में पूरी टिप्पणी नीति पढ़ें |)

अपना ईमेल पता दर्ज करें - हर हफ्ते हम आपको दिलचस्प लेख भेजेंगे!

क्या आपको भी चाय पसंद है ?